अपना ब्लॉग जोड़ें

अपने ब्लॉग को  जोड़ने के लिये नीचे दिए हुए टेक्स्ट बॉक्स में अपने ब्लॉग का पता भरें!
आप नए उपयोगकर्ता हैं?
अब सदस्य बनें
सदस्य बनें
क्या आप नया ब्लॉग बनाना चाहते हैं?
नवीनतम सदस्य

नई हलचल

मित्र मंडली -91

#corner-to-corner { height:100%; border:10px SOLID Green ; padding:20px ; background: #F8ECC2 ; मित्रों , "मित्र मंडली"का  इकानवे  वाँ अंक का पोस्ट प्रस्तुत है।इस पोस्ट में मेरे ब्लॉग के फॉलोवर्स/अनुसरणकर्ताओं के हिंदी पोस्ट की लिंक के साथ उस...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
राकेश श्रीवास्तव
0
3

1186....हम-क़दम का चालीसवाँ क़दम....उलझन

मानव जीवन विसंगतियों से भरा है। जीवन का कोई भी पल एक जैसा नहीं होता है। एक साधारण मनुष्य बस यही चाहता है कि शांतिपूर्ण सरल जीवन जी सके जिसमें रोटी,कपड़ा और छत की सुविधा हो। पर यह सब इतना आ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Yashoda Agrawal
पाँच लिंकों का आनन्द
0

खुद से बिछड़ने की क्या थी वज़ह.....पंकज शर्मा

तेरे खामोश होने की क्या थी वज़ह,कि फिर लौट न आने की क्या थी वज़ह।तेरे होने न होने का अब फर्क नहीं पड़ता,साथ होकर भी साथ न होने की क्या थी वज़ह।बीती बातों का क्यों अफसोस है तुझे,ग़ज़ल लिखने की क्या थी वज़...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Yashoda Agrawal
मेरी धरोहर
0

मैं नारी हूँ मैं शक्ति हूँ

मैं सबला हूं पर अबला नहीं ,मेरी शक्ति का तुम्हें भान नहीं। तुम जीत नहीं सकते मुझको, तुम हरा नहीं सकते मुझको। मैं सहती हूं पर कमजोर नहीं, मैं सुनती पर मजबूर नहीं । तुम भ्रम में जीवन जीते ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
SHIKHA KAUSHIK
भारतीय नारी
1

दर्द का समंदर

जब टूटता है दिलधोखे फरेब सेअविश्वास और संदेह सेनफरतों के खेल सेतो लहराता है दर्द का समंदररह जाते हैं हतप्रभअवाक् इंसानों के रूप सेसीधी सरल निष्कपट जिन्दगीपड़ जाती असमंजस मेंबहुरूपियों की ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
3

औरत मर कर सिर्फ नर्क जाती है ?

14 अक्टूबर, 2018 बचपन से ही सुनती आ रही हूँ कि मरने पर स्वर्ग या नर्क की प्राप्ति होती है। अच्छे काम करोगे तो स्वर्ग जाओगे और बुरे काम करोगे तो नर्क की यातनाओं का सामना करना पड़ेगा।लेकिन जैसा धर्...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Mrityunjay
3

बलिदान

      मुझे पक्षी बहुत पसन्द हैं, इसलिए मैं पिंजरे में रखे छः पक्षी खरीद लाया और अपनी बेटी एलिस को उन्हें सौंप दिया, जो उनकी देखभाल करने लगी। फिर उनमें से एक पक्षी बीमार पड़कर मर गया। हम सोच...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Roz Ki Roti
रोज़ की रोटी - Daily Bread
5
One Nation Equal Education Campaign
0

विषमता जीवन की

1 सप्ताह पूर्व
Childless Women Specialist BABA JI +91-9909794430
0

इतना तो रहम करो मुझे जिला दो

देखो मैं बेचैन हूँमंजिल से मुझे मिला दोयदि वह किसी पेड़ पर हैगिराने को उसे हिला दोदिल मेरा चाहता है किजल्दी मुझे दिला दोयदि वह पानी में घुला हियालाओ वह पानी मुझे पिला दोयदि मंजिल जहर में मिलेज...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
kanchan jwala kundan
कुंदन के कांटे
3
0

फिल्‍म ‘मुन्‍ना माफिया’ और ‘चीलम’ का हुआ भव्‍य मुहूरत

 झारखंड में शूट को लेकर हूं उत्साहित : नीलू शंकर सिंहरांची। आर के मीडिया इंटरटेंमेंट के बैनर तले बन रही दो बेहतरीन फिल्‍म ‘मुन्‍ना माफिया’ और ‘चीलम’ का भव्‍य मुहूर्त आज डैम हाउस, रॉक गार्डे...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Childless Women Specialist BABA JI +91-9909794430
0

सवाल अपने आप से...

सवाल अपने आप से...क्या हम मंजिल तकजा सकेंगे...?क्या हम अपने लक्ष्य कोपा सकेंगे...?क्या हम खुद से किये हुए वादेनिभा सकेंगे...?क्या हम अपना असली स्वरुपदिखा सकेंगे...?क्या हम अपनी सोई हुई शक्ति कोजगा सके...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
kanchan jwala kundan
कुंदन के कांटे
3

करना कठिन पर करके देखें आओ ऐसा यार करें

हम कैसा व्यवहार करेंआओ जरा विचार करेंगम में डूबकर खुशियाँ बांटेंआओ ऐसा आचार करेंईर्ष्या-नफरत अपने खातेहम दूसरों को प्यार करेंकरना कठिन पर करके देखेंआओ ऐसा यार करें- कंचन ज्वाला कुंदन ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
kanchan jwala kundan
कुंदन के कांटे
4

मदर्स इंटरनेशनल स्कूल में विज्ञान प्रदर्शनी आयोजित

* छात्रों में छिपी प्रतिभा को निखारने की जरूरत : रमण कुमार झारांची। मदर्स इंटरनेशनल स्कूल, जाहेर (ब्राम्बे) में शनिवार को विज्ञान प्रदर्शनी आयोजित की गई। इस अवसर पर स्कूल के छात्रों ने अपनी प्...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Childless Women Specialist BABA JI +91-9909794430
0

सफल कैसे होओगे चिंतन करो

सफल कैसे होओगेचिंतन करोधनी कैसे बनोगेमंथन करोकामयाबी के लिए खुदा कावंदन करो- कंचन ज्वाला कुंदन ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
kanchan jwala kundan
कुंदन के कांटे
2

देखो कि अंदर क्या पल रहा है

सोचो कि अंदरक्या चल रहा हैदेखो कि अंदरक्या पल रहा हैबताओ कि अंदरक्या गल रहा हैजानो कि अंदरक्या जल रहा हैमानो कि अंदरक्या ढल रहा है -- कंचन ज्वाला कुंदन ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
kanchan jwala kundan
कुंदन के कांटे
1

तुम जो सोचोगे

तुम जो सोचोगेकरोगे...तुम जो करोगेबनोगे...अगर आग में कूदोगेमरोगे......  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
kanchan jwala kundan
कुंदन के कांटे
3

केवल पुरुषों को दोष देने से काम नहीं चलेगा।

केवल पुरुषों को दोष देने से काम नहीं चलेगा।पुरानी यादें हमेशा हसीन और खूबसूरत नहीं होती। मी टू कैम्पेन के जरिए आज जब देश में कुछ महिलाएं अपनी जिंदगी के पुराने अनुभव साझा कर रही हैं तो यह पल नि...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
SHIKHA KAUSHIK
भारतीय नारी
0

पहले अपना परिचय करें

मन की शक्तियों कासंचय करेंलक्ष्य अवश्य पूरा होगानिश्चय करेंएक ही शर्त है, पहले अपनापरिचय करें- कंचन ज्वाला कुंदन ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
kanchan jwala kundan
कुंदन के कांटे
1

एक व्यंग्य : सबूत चाहिए ---

एक लघु व्यथा : सबूत चाहिए.....[व्यंग्य]विजया दशमी पर्व शुरु हो गया । भारत में, गाँव से लेकर शहर तक ,नगर से लेकर महानगर तक पंडाल सजाए जा रहे हैं ,रामलीला खेली जा रही है । हर साल राम लीला खेली जाती है , ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
1

बुराईयों का विग्रह हो

हे प्रभो! मुझ परआपकी अनुग्रह होचंचल मेरे मन कीनिग्रह होअच्छाईयों का संधि होबुराईयों का विग्रह हो -कंचन ज्वाला कुंदन ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
kanchan jwala kundan
कुंदन के कांटे
2

धीरे-धीरे चलते जाओ

दिल में आगे बढ़ने कीआग लगाओमन उलझन मेंना डुबाओतुम्हें राह में रोके जोदिवार गिराओबैठे रहने से अच्छा हैधीरे-धीरे चलते जाओ- कंचन ज्वाला कुंदन ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
kanchan jwala kundan
कुंदन के कांटे
2

बस इतना ही फिक्र करें

सफलता हाथ लगेगी यारोंकाम करें बेफिक्र करेंजुनून जलती रहे जरुरजरुरी नहीं कि जिक्र करेंनजर हटे ना मंजिल से किबस इतना ही फिक्र करें- कंचन ज्वाला कुंदन ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
kanchan jwala kundan
कुंदन के कांटे
1

बचपन बीत जाती है

बचपन बीत जाती हैमाँ की गोद मेंजवानी बीत जाती हैबीवी की बांहों मेंऔर बुढ़ापा सिमट जाता हैटूटे हुए खाट तकजिंदगी की इस रोटी कातीन टुकड़े का विधान हैये हम पर ही निर्भर हैहम कौन सा टुकड़ा छोटा करेंये ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
kanchan jwala kundan
कुंदन के कांटे
2

धीरे-धीरे...

मेरे सपनेहोंगे अपनेधीरे-धीरे...मेरे ख्वाबहोंगे नायाबधीरे-धीरे...हर एक अरमानपायेगा पहचानधीरे-धीरे...- कंचन ज्वाला कुंदन ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
kanchan jwala kundan
कुंदन के कांटे
1

प्रतिकूल परिस्थिति नापती है स्थिति

प्रतिकूल परिस्थितिनापती है स्थितिजो पार हो ना पायेवो होते वहां इतिचलती कब से आ रहीयहीं एक रीतिबढ़ने वाले गगन चुमतेसबसे सुंदर नीति-कंचन ज्वाला कुंदन ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
kanchan jwala kundan
कुंदन के कांटे
2

Jio me Free Callertune kaise active Kare

हेलो दोस्तो आप सभी का स्वागत है हमारे ब्लॉग में और आज हम बताएंगे जिओ में फ्री कॉलर ट्यून एक्टिवेट कैसे करते हैं जियो को कौन नहीं जानता जो सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी हैजिओ के आने के बाद सभी टेलीकॉ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
IndrasiNh Solanki
Indrasinh Solanki - Everything Is Here
0

हे प्रभो! इसे पूरा कर होने से पहले दमन

इच्छाएं उबलती है मेरे मन मेंईश्वर को मेरा नमनक्यों करूँ उपेक्षा उनकीइसे क्यों करूँ शमनहे प्रभो! इसे पूरा करहोने से पहले दमन-कंचन ज्वाला कुंदन ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
kanchan jwala kundan
कुंदन के कांटे
1


Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन