अपना ब्लॉग जोड़ें

अपने ब्लॉग को  जोड़ने के लिये नीचे दिए हुए टेक्स्ट बॉक्स में अपने ब्लॉग का पता भरें!
आप नए उपयोगकर्ता हैं?
अब सदस्य बनें
सदस्य बनें
क्या आप नया ब्लॉग बनाना चाहते हैं?
नवीनतम सदस्य

नई हलचल

गुरुवासरीय गोष्ठी दिनांक ०७ दिसंबर २०१७ गुरूवार---डा श्याम गुप्त

                                                                         विशिष्ट गुरुवासरीय गोष्ठी द...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
0

मत छोड़ मुझे ज़िंदा!!!

दर्दका दशाननजीतगयाउम्मीदकी सिंड्रेला हारगई'निचोड़ लो रक्त इन स्तनों सेलहू-लुहान कर दो छाती,घुसा दो योनि-मार्ग मेंजो कुछ भी चाहो'मेरी आत्मा चीखी थीफफोलों से दुख रहा थामेरा जिस्मजब वो सारे वह...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
Abhilasha
@Abhi
0

राष्ट्रीय कृषि बागवानी कार्यशाला में सहभागिता करेंगे फिएमिट्स के विद्यार्थी

राज्यपाल नाइक होंगे मुख्य अतिथिलखनऊ- हाईटेक कृषि सलाह केंद्र व् लखनऊ मैनेजमेंट एसो...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
Shahid Mansoori
E & E News
0

मानीटर - बालगीत 106

 क्लास का अपने हूं मानीटरडरते मुझसे सारे चीटरहल्ला गुल्ला कर ना पाएंधमा चौकड़ी से कतराएंझगडां करते जिन्हें मैं पाऊंपनिशमेंट उनको दिलवाऊंक्लास में रखती हूं अनुशासननियमों का करवाती पालन...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
bhavna pathak
bhonpooo.blogspot.com
0

इस वेडिंग सीजन में ये खूबसूरत जूड़ा एक्सेसरीज जरूर ट्राई करें

दोस्तों, आजकल शादियों और पार्टियों का सीजन चल रहा है। शादियों के इस इस सीजन में इंडियन और एथनिक वियर बहुत चलन में है। इंडियन वियर में भी महिलाओं और लड़कियों सबसे पहली पसंद साड़ी और लहंगा होते है...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
shweta
offbeat news
1
हमारा वैश्य समाज - HAMARA VAISHYA SAMAJ
0

तेवरी-१९८२ की भूमिका

इस प्रथम तेवरी-संकलन के माध्यम से हम तेवरी काव्यान्दोलन की आधिकारिक घोषणा कर रहे हैं। यहाँ हिन्दी कविता की वर्तमान स्थिति और युग-जीवन के प्रति उसकी भूमिका पर संक्षेप में विचार करना आवश्यक है...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
Rameshraj
तेवरी-ग़ज़ल विवाद
0

तेवरी-काव्यधारा : उत्पत्ति, विकास और वैचारिकता +डॉ. चंदन कुमारी

तेवरी-काव्यधारा : उत्पत्ति, विकास और वैचारिकता+डॉ. चंदन कुमारी----------------------------------------------------------------------------------हिंदी साहित्य की काव्यधारा तेवरीशिथिलता में स्पंदन का स्वतःस्फूर्त संचार है | जमीनी हकीकत को ब...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
Rameshraj
तेवरी-ग़ज़ल विवाद
0

तेवरी-काव्यधारा: उत्पत्ति, विकास और वैचारिकता +डॉ चंदन कुमारी

तेवरी-काव्यधारा: उत्पत्ति, विकास और वैचारिकता+डॉ चंदन कुमारी-------------------------------------------------------------हिंदी साहित्य की काव्यधारा तेवरीशिथिलता में स्पंदन का स्वतःस्फूर्त संचार है | जमीनी हकीकत को बयां करने वा...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
Rameshraj
तेवरी-ग़ज़ल विवाद
3

From sign to death certificate

5 दिन पूर्व
Abhilasha
@Abhi
3

एक सफल YouTuber कैसे बनें

मित्रों आपके मन में भी youtube पर एक चैनल बनाकर सफल होने का विचार जरूर आता ही होगा |  और आना भी चाहिए youtube पर आज हर दिन नये नये चैनल बनते जा रहे है जोकि यह संकेत देता है कि आज लोग अपने आप को अभिव्यक्त करन...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
बेरोजगार  लेखक
बेरोजगार लेखक
3

कानूनन भी नारी बेवकूफ कमजोर ,पर क्या वास्तव में ?

नारी की कोमल काया व् कोमल मन को हमारे समाज में नारी की कमजोरी व् बेवकूफी कह लें या काम दिमाग के रूप में वर्णित किये जाते हैं .नारी को लेकर तो यहाँ तक कहा जाता है कि इसका दिमाग घुटनों में होता है औ...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
SHIKHA KAUSHIK
भारतीय नारी
3

कानूनन भी नारी बेवकूफ कमजोर ,पर क्या वास्तव में ?

नारी की कोमल काया व् कोमल मन को हमारे समाज में नारी की कमजोरी व् बेवकूफी कह लें या काम दिमाग के रूप में वर्णित किये जाते हैं .नारी को लेकर तो यहाँ तक कहा जाता है कि इसका दिमाग घुटनों में होता है औ...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
SHALINI KAUSHIK
कानूनी ज्ञान
1

शरण में आया तेरी राम जी

शरण में आया तेरी राम जीसंग मेरे घूमते थे, संग मेरे खाते करते थे, मुझसे वे बड़ी बड़ी बातें दुर्दिन में मेरे वो   ,आये नहीं काम जीअब तो शरण में ,मैं आया तेरी राम जी यार दोस्त देखे मैनें, देखे मैने...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
Madan mohan saxena
मदन मोहन सक्सेना की रचनाएँ
0

ग़ज़ल (आज के हालात )

आज के हालात में किस किस से हम शिकवा करेंहो रही अपनों से क्यों आज यारों  जंग हैखून भी पानी की माफिक बिक रहा बाजार मेंनाम से पहचान होती किसमें किसका रंग हैसत्य की सुंदर गली में मन नहीं लगता है अब...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
Madan mohan saxena
मदन मोहन सक्सेना की ग़ज़लें
0

मौन का परिणाम.....डॉ. शैलजा सक्सेना

तुमने सही को गलत कहा,गलत को सही, कहना पड़ा मुझे भी वही,शब्द को दी नहीं, अर्थ की सहमतिसंस्कारों ने दी नहीं मुँह खोलने की अनुमतिहर बार बहस की स्थिति से बचती रही और सच्ची भावनाओं के आसपासपाँ...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
kuldeep thakur
कविता मंच।
0

100 बीमारी का एक इलाज, 100 bimari ka ek davaee

खाना खाने से 1 घंटे बाद पानी पिए और हमेशा स्वस्थ रहे ,कभी भी खाना खाने के तुरंत बाद पानी नहीं पीना चाहिए !अब ये भी जानना बहुत जरुरी है ...हम पानी क्यों ना पीये खाना खाने के बाद क्या कारण है |सबसे पहले...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
Sagar das
Sagar Health Tips
5

100 बीमारी का एक इलाज, 100 bimari ka ek davaee

खाना खाने से 1 घंटे बाद पानी पिए और हमेशा स्वस्थ रहे ,कभी भी खाना खाने के तुरंत बाद पानी नहीं पीना चाहिए !अब ये भी जानना बहुत जरुरी है ...हम पानी क्यों ना पीये खाना खाने के बाद क्या कारण है |सबसे पहले...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
Sagar das
0

Google Adsense और Adnow में से क्या चुनें

मित्रों मैंने ऐसे बहुत से ब्लॉग्स  बेबसाईट को देखा है जिनमे कोई एड नही है |    जाहिर सी बात है उन्हें कोई प्रॉफिट भी नही होता होगा |  और जब प्रॉफिट नही होता है तो जाहिर सी बात है एक ब्लॉगर क...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
बेरोजगार  लेखक
बेरोजगार लेखक
3

ख़ुशनुमा दिसम्बर...

इस साल दिसम्बर का महीना अपने साथ ख़ुशियों की सौग़ात लेकर आया है... माह के पहले हफ़्ते में वो ख़ुशी मिली, जो हमारी ज़िन्दगी का हासिल है... ये ख़ुशी हमारी परस्तिश से वाबस्ता है... दूसरा हफ़्ता भी अपने साथ ख़ुश...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
Firdaus Khan
Firdaus Diary
0

TOP 20 AMAZING & INTRESTING FACTS ABOUT FACEBOOK IN HINDI

Amazing And Intresting Facts About Facebookहेलो दोस्तो आपका स्वागत है हमारे ब्लॉग abjanehindime.com. मेंदोस्तो आप फेसबुक के बारे में तो जानते ही होंगे । दोस्तो में आज आपको फेसबुक के रोचक तथ्य ( Fact ) बताऊंगा जो आप जानकर चौंक जायँगेद...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
ßräñdéd
2

"मैंने सब-कुछ हार दिया है" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

मित्रों!कई वर्ष पूर्व यह गीत रचा था।आज आप सबके साथ साझा कर रहा हूँ।छला प्यार में जिसने मुझको,मैंने उससे प्यार किया है।जीवन के इस दाँव-पेंच में,मैंने सब-कुछ हार दिया है।।जब राहों पर कदम बढ़...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
1

कांग्रेस: युवराज बन गए महाराजा !

हुकूमत किसे कहते हैं ये आप गांधी परिवार से सीख सकते हैं। वंशवाद का कैसे सही इस्तेमाल करना है? ये गांधी परिवार से सीखा जा सकता है।कल तक कांग्रेस के उपाध्यक्ष रहे राहुल गांधी अब पार्टी के निर्...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
सुनील सिंह
पहचान पत्र
2
0

879....वह हृदय नहीं है पत्थर है, जिसमें स्वदेश का प्यार नहीं.”

जय मां हाटेशवरी....काव्य क्षेत्र के शेरोमणी व हिंदी साहित्य के सबसे बड़े रत्न राष्ट्रीय कवि मैथली शरण गुप्त का निधन आज के दिन ही यानी 12 दिसंबर को  हुआ था.... सर्वप्रथम इन्हे कोटी-कोटी नमन....  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
Yashoda Agrawal
पाँच लिंकों का आनन्द
0

दस क्षणिकाएँ .....सुशील कुमार

दस क्षणिकाएँ1.कवि बनना तो दूर की बात रहीमेरे लिए न जाने कब से लड़ रहा हूँ खुद से एक आदमी बनने की लड़ाई !2. बड़े आदमी के खिलाफ यह बयान है केवलइसे कविता समझने की भूल मत करना अरे, आदमी तो बन ...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
Yashoda Agrawal
मेरी धरोहर
0

Precious time

6 दिन पूर्व
Abhilasha
@Abhi
5

सत्याग्रह के पवित्र भूमि की यात्रा

मैं पिछली जनवरी में जब नई नौकरी के लिए नोएडा से सूरत शिफ्ट हो रहा था, तो क्लॉसमेट्स और कई साल कहीं रह लेने पर स्वाभाविक से लगाव को “घूमने की चाहत’ से किनारे किया था। मैने सोचा कि चलो कुछ नई जगह, न...  और पढ़ें
6 दिन पूर्व
Praveen
कच्ची सड़क
4

दांडी की मेरी यात्राः मैं सत्याग्रह की पवित्र जमीन को छूना चाहता था

https://www.instagram.com/p/Bbr-QyFHg-c/मैं पिछली जनवरी में जब नई नौकरी के लिए नोएडा से सूरत शिफ्ट हो रहा था, तो क्लॉसमेट्स और कई साल कहीं रह लेने पर स्वाभाविक से लगाव को “घूमने की चाहत’ से किनारे किया था। मैने सोचा कि च...  और पढ़ें
6 दिन पूर्व
Praveen
कच्ची सड़क
5

एक प्रजाति के तौर पर मानव की सफलता

एक प्रजाति के तौर पर मानव की सफलता क्या हो सकती है ? इसको दो हिस्सों में कहा जा सकता है : पहला ब्रह्मांड से मनुष्य का एक एेसा संपर्क स्थापित हो कि संपूर्ण सृष्टि में उसको अपनी हिस्सेदारी का अनुभ...  और पढ़ें
6 दिन पूर्व
Praveen
कच्ची सड़क
5


Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन