अपना ब्लॉग जोड़ें

अपने ब्लॉग को  जोड़ने के लिये नीचे दिए हुए टेक्स्ट बॉक्स में अपने ब्लॉग का पता भरें!
आप नए उपयोगकर्ता हैं?
अब सदस्य बनें
सदस्य बनें
क्या आप नया ब्लॉग बनाना चाहते हैं?
नवीनतम सदस्य

नई हलचल

मरे हुए लोग

मरे हुए लोगमरते हैं रोज-रोजथोड़ा- थोड़ा,अपनी निकलती साँसों के साथमर जाता है उनका उत्साह,हंसते नहीं है कभीन ही बोलते है,अपनी धड़कनों के साथबजता है उनका शरीरजैसे पुराने खंडहरों मेंतड़पती हो कोइ आत...  और पढ़ें
4 दिन पूर्व
Aparna Bajpai
Bol Skhee Re ( साहित्यिक सरोकारों से प्रतिबद्ध )
0

शरद यादव की हालत बिना पेंदी के लोटा की तरह हो गई है, नेताओं पर से जनता का भरोसा ऐसे नहीं टूटा

आपातकाल के विरोध में आए लोग आज कल दरबार में माथा टेकने से नहीं चूकते। ऐसे लोगों को क्या कहा जाए?शरद यादव की स्थिति बिना पेंदी के लोटे की तरह हो चुकी है। आज की राजनीतिक हकीकत यह है कि वो अपने बूते ...  और पढ़ें
4 दिन पूर्व
Haresh
Information2media
2
लो क सं घ र्ष !
0
लो क सं घ र्ष !
0
लो क सं घ र्ष !
0
लो क सं घ र्ष !
0
लो क सं घ र्ष !
0

Top Trend People Google Search In 2017 || जानिये ये लोग २०१७ में सबसे ज्यादा सर्च क्यों किये गये

२०१७ में चर्चित रहे ये लोग  मर्द सिर्फ एक ऐसा क्यों Entertainers1) Sunny Leone2) Arshi Khan3) Sapna Choudhary4) Vidya Vox5) Disha Patani6) Sunil Grover7) Shilpa Shinde8) Bandagi Kalra9) Sagarika Ghatge10) Rana Daggubati हम भारतीयों से यही अपेक्षा रखते है sunny leone को आप ऐसा ही प्यार देते रहे एक द...  और पढ़ें
4 दिन पूर्व
बेरोजगार  लेखक
बेरोजगार लेखक
0

कथाओं में कथा राम कथा - विमर्श

        हिंदुस्तान को अगर कथा कहानियों का देश कहा जाय तो अतिशयोक्ति न होगी। पूरब से पश्चिम, उत्तर से दक्षिण देश के चप्पे चप्पे में कथा कहानियां रची बसी मिलेंगी। यह भी कम रोचक नहीं है कि एक ह...  और पढ़ें
4 दिन पूर्व
bhavna pathak
bhonpooo.blogspot.com
4

चंबल की ये औरतें- feminism से आगे की बात हैं

राजनैतिक रूप से लगातार उद्भव-पराभव वाले हमारे देश में कुछ  निर्धारित हॉट टॉपिक्स हैं चर्चाओं के लिए। देश के सभी प्रदेशों में  ''महिलाओं की स्‍थिति''पर लगातार चर्चा इन हॉटटॉपिक्स में से एक ...  और पढ़ें
4 दिन पूर्व
Alaknanda singh
अब छोड़ो भी
2

गरम पानी पीकर करें दिन की शुरुआत लेकिन क्यों

मित्रों बहुत कम लोग यह जानते होंगे ऐसा मै बिलकुल नही कह सकता जहा तक मेरा विश्वाश है कि अधिकांश लोग  इस बात से जरूर परिचित होंगे  कि सुबह उठकर सबसे पहले गर्म पानी पीना हमारी सेहत के लिए कितन...  और पढ़ें
4 दिन पूर्व
बेरोजगार  लेखक
बेरोजगार लेखक
2

हुस्न

देख कर चंदा को शब में एक शावक बोलता।ओ ! मेरी मैया बता तू हुस्न आख़िर चीज़ क्या?हुस्न क्या बाज़ार बिकता या कि ठेलों पे मिला।आइने को देख इंसां क्यों भला है कोसता?माँगती गोरी है अक्सर हुस्न उसको दे...  और पढ़ें
4 दिन पूर्व
kuldeep thakur
कविता मंच।
0

एक मुखी रुद्राक्ष

रुद्राक्ष सुर्ख़ियों में है, क्योंकि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इन दिनों रुद्राक्ष की माला पहन रहे हैं... उनकी दादी जान इंदिरा गांधी भी रुद्राक्ष की माला पहनती हैं... रुद्राक्ष से वाबस्ता एक ...  और पढ़ें
4 दिन पूर्व
Firdaus Khan
Firdaus Diary
0

बृजेश नीरज।

4 दिन पूर्व
kuldeep thakur
कविता मंच।
0

अकेले प्रेम की कोशिश

यूँ जारी है मेरी कोशिशें, अकेले ही प्रेम लिखने की....कोशिशें बार-बार करता हूँ कि,रत्ती भर भी छू सकूँ अपने मन के आवेग को,जाल बुन सकूँ अनदेखे सपनों का,चून लूँ, मन में प्रस्फुटित होते सारे कमल,अर्थ दे ...  और पढ़ें
4 दिन पूर्व
पुरूषोत्तम कुमार सिन्हा
4

मेरी कब्र के इंतजार में हो तुम !

मेरी परछाई से मारपीट करते हो तुम ।मेरी आत्मा पर अत्याचार करते हो तुम ।।मेरी आजादी का अतिक्रमण करते हो तुम।मेरी हर सड़क पर टकराते हो तुम।।मेरी हर खुशी और उमंग से जलते हो तुम।कायर और बेईमान की मू...  और पढ़ें
4 दिन पूर्व
सुनील सिंह
पहचान पत्र
3

आत्म-स्वीकारोक्ति

#corner-to-corner { height:100%; border:5px SOLID slateblue ; padding:30px; background: tomato ; आत्म-स्वीकारोक्तिमैं कह नहीं सकती,बेवफ़ा उसको भी,हाँ! मैंने देखा है,उसकी वफ़ा को भी। रही होगी कोई भी,मजबूरी तभी तो,छोड़ गया तन्हां,  यूँ, यहाँ मुझको भी...  और पढ़ें
4 दिन पूर्व
राकेश श्रीवास्तव
0

बालगीत "मौसम के अनुकूल बया ने, अपना नीड़ बनाया है"

कल केवल कुहरा आया था,अब बादल भी छाया है।हाय भयानक इस सर्दी ने,सबका हाड़ कँपाया है।।भीनी-भीनी पड़ी फुहारें,झीना-झीना उजियारा।आग सेंकता सरजू दादा,दिन में छाया अँधियारा।कॉफी और चाय का प्याला,सब...  और पढ़ें
4 दिन पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
1

RITU JAYASWAL - लफंडरों को झाड़ू में गोबर लगाकर पीटती हैं सीतामढ़ी की यह मुखिया

लफंडरों को झाड़ू में गोबर लगाकर पीटती हैं सीतामढ़ी की यह मुखियाअगर आप नहीं चेते तो झाड़ू में गोबर लगाकर पीटती हैं सीतामढ़ी की मुखिया रितु जायसवालरितु जायसवाल को सभी जान गए हैं. वैशाली की बेटी ह...  और पढ़ें
4 दिन पूर्व
Praveen Gupta
हमारा वैश्य समाज - HAMARA VAISHYA SAMAJ
1
0

880..शब्दावलियों की लड़ियाँ है..

१३ दिसंबर २०१७।।शुभ भोर वंदन।।जाड़ों में भोर की आंगन में छनती धूप और चूल्हे पर उबलती  चाय से उठता धुआं ,पत्तियों की महक सच..ये आलम ही कुछ और हैतो फिर आज चाय की चुस्की के साथ आनंद लेते हैं शब्दाव...  और पढ़ें
4 दिन पूर्व
Yashoda Agrawal
पाँच लिंकों का आनन्द
0

मौत का मंतर न फेंक....डॉ. कुंवर बेचैन

दो दिलों के दरमियाँ दीवार-सा अंतर न फेंकचहचहाती बुलबुलों पर विषबुझे खंजर न फेंकहो सके तो चल किसी की आरजू के साथ-साथमुस्कराती ज़िंदगी पर मौत का मंतर न फेंकजो धरा से कर रही है कम गगन का फासलाउन उ...  और पढ़ें
4 दिन पूर्व
Yashoda Agrawal
मेरी धरोहर
0

लघुत्तम: 14 साल नागिन डांस

अफ़सोस है कि सरकारों की सलगिरह पर निकलने वाली बारातों में मीडिया बैंड बजाता है। कार्य&#...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
Barun Sakhajee
आम आदमी सरकारी चंगुल में......
2

तहज़ीब

5 दिन पूर्व
Aparna Bajpai
Bol Skhee Re ( साहित्यिक सरोकारों से प्रतिबद्ध )
3

#Laghuttam_RightVSLeft

5 दिन पूर्व
Barun Sakhajee
आम आदमी सरकारी चंगुल में......
3

आखिर सुषमा क्यों पीछे हटी ?

  आतंकवाद के खिलाफ नई दिल्ली में भारत ,रूस और चीन के विदेश मंत्रियों के १५वें सम्मलेन में तीनों देशों ने इसके खात्मे का ऐलान किया है .साथ ही टेरर फंडिंग रोकने और आतंकी ढांचे को ख़त्म करने पर भी ...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
SHALINI KAUSHIK
! कौशल !
2

पवित्र-शास्त्र

   अ-पो-ला-पी चीन के यूनान प्रांत की पर्वत शरंखलाओं में बसने वाले अखा कबीले का एक वृद्ध सदस्य है। हाल ही में जब हम अपने मिशनरी दौरे में उससे मिले, तो उसने हम से कहा कि भारी वर्षा के कारण वह परमे...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
Roz Ki Roti
रोज़ की रोटी - Daily Bread
2

बेहतरीन जोक्स, जिन्हें पढ़कर किसी की हंसी नहीं रुकेगी

पत्नी ( मायके से फोन पर) - पत्नी ( मायके से फोन पर) - जानू क्या कर रहे हो ?पति - बस पैसा जोड़ रहा हूं।पत्नी - सच, मैं जानती थी सोना सस्ता हो गया है और आपको मेरे नेकलेस की चिंता सता रही होगी और मेरे न्यू ...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
shweta
offbeat news
3

हाई प्रोफाइल शादी में राखी सावंत ने 50 रूपये के लिए किया था ये काम

वक्त हमेशा एक सा नहीं रहता कभी अच्छा होता है तो कभी बुरा। लगभग हम सभी ने कभी न कभी अच्छा और बुरा दोनों तरह का वक्त देखा है। ऐसे ही कुछ बुरा वक्त राखी सावंत ने भी देखा है। भले ही आज राखी सेलिब्रिटी...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
shweta
offbeat news
1
0


Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन