अपना ब्लॉग जोड़ें

अपने ब्लॉग को  जोड़ने के लिये नीचे दिए हुए टेक्स्ट बॉक्स में अपने ब्लॉग का पता भरें!
आप नए उपयोगकर्ता हैं?
अब सदस्य बनें
सदस्य बनें
क्या आप नया ब्लॉग बनाना चाहते हैं?
नवीनतम सदस्य

नई हलचल

दोहे "फीके सब त्यौहार" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

आज अहोई-अष्टमी, दिन है कितना खास।जब तक माँ जीवित रही, रखती थी उपवास।।वो घर स्वर्ग समान है, जिसमें माँ का वास।अब मेरा माँ के बिना, मन है बहुत उदास।।बचपन मेरा खो गया, हुआ वृद्ध मैं आज।सोच-समझकर ...  और पढ़ें
7 दिन पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
3

दोहे "चलना कछुआ चाल" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

उपवन में काँटे उगे, चलना कदम सम्भाल।प्यार-प्रीत की राह में, चलना कछुआ चाल।।चारों ओर बिछा हुआ, बहेलियों का जाल।थर्राता है गात तब, जब आता भूचाल।।भट्टी में तपकर बने, लोहा भी फौलाद।सुख-दुख दोनों ...  और पढ़ें
7 दिन पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
2

चर्चा - 2755

7 दिन पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
2

प्रकाशन-जय विजय "सपनों की मत बात करो"

सम्बन्धों की दुनियादारी,अनुबन्धों की बात करो।सपने कब अपने होते हैं,सपनों की मत बात करो।।लक्ष्य नहीं हो जिन राहों में,कभी न उन पर कदम धरो,जिनसे औंधे मुँह गिर जाओ,ऐसी नहीं उड़ान भरो,रंग-बिरंगी इ...  और पढ़ें
7 दिन पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
1

818...बेटों जैसे दीजिए, बेटी को अधिकार...

सादर अभिवादन कल एक समाचार पढ़ा -"फेसबुक पोस्ट के कारण 18 वर्षीय युवक को 42 दिन जेल में काटने पड़े।"  सोशल मीडिया का इस्तेमाल लोग समझदारी से अपनी वैचारिक स्वतंत्रता को अभिव्यक्त करने के बजाय वि...  और पढ़ें
7 दिन पूर्व
Yashoda Agrawal
पाँच लिंकों का आनन्द
0

तेरी ज़रूरत ज्यादा है..........अमित जैन 'मौलिक'

मेरी उजरत कम, तेरी ज़रूरत ज्यादा हैऐ ज़िंदगी कुछ तो बता, तेरा क्या इरादा है।दांव पर ईमान लगाकर, तरक़्क़ी कर लेनाआज के दौर का, फ़लसफ़ा सीधा सादा है।हड़बड़ी में दिख रहा, ख्वाहिशों का समंदरलहरों में उफान ह...  और पढ़ें
7 दिन पूर्व
Yashoda Agrawal
मेरी धरोहर
0

बस ज्ञानी हिंदू ही पढ़ें समझ में आ जाये तो लाईक भी करें फिर फार्वर्ड भी करें

सारे शिव डरपोक हलाहल गटके हुऐ गले गले नीले पड़े दिखा रहे हैं साँपों को समझा रहे हैं साँपों को शाँत रहें साँप बने रहें सारे साँप मौज में हैं शिव के गले में माला डाले हुए हैं हर जगह शिव ही शिव हैं ह...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
डा0 सुशील कुमार जोशी
उल्लूक टाईम्स
0

मुंबई इस देश का एक भाग है किसी के बाप की जागीर नहीं

हरेश कुमारराज ठाकरे, मुंबई इस देश का एक भाग है तुम्हारे बाप की जागीर नहीं, तुम तो खुद दूसरे राज्य से वहां गए हो। मध्य प्रदेश के इंदौर से महाराष्ट्र की राजनीति में पैर जमाने वाले महाराष्ट्र को अ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Haresh
Information2media
3

जाँच

   स्वास्थ्य संबंधित समस्याओं को गंभीर होने से पहले ही पकड़ लेने के लिए चिकित्सक नियमित शारीरिक जाँच की सलाह देते हैं। हम यही कार्य अपने आत्मिक स्वास्थ्य के लिए भी कर सकते हैं, परमेश्वर के व...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Roz Ki Roti
रोज़ की रोटी - Daily Bread
3

राज ठाकरे की गुंडागर्दी पर अब तक चुप क्यों हैं केंद्र, महाराष्ट्र, बिहार और कोर्ट

हरेश कुमारराज ठाकरे जैसे नेताओं की गुंडागर्दी पर केंद्र और राज्य सरकार को तत्काल एक्शन लेने की जरूरत है। बिहार के लोगों के साथ जिस तरह से इन्होंने मारपीट की है वह घोर निंदनीय है। एक सभ्य समाज ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Haresh
Information2media
3

टॉप 15 संदीप माहेश्वरी के quote हिंदी में

 दोस्तो आपका स्वागत है हमारे ब्लॉग में । आप सब संदीप माहेश्वरी को तो जानते ही होंगे आज हम आपको उनको टॉप 15 quote बताएंगे ।टॉप 15 संदीप माहेश्वरी के quote Quote 1 : सबसे बड़ा रोग क्या कहेंगे लोग ।Quote 2 : न भागन...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
ßräñdéd
2

प्रेम कहां कब मरता है - गीत

प्रेम कहां कब मरता हैदिल में बसा वह रहता हैबहे नदी सा कलकल छलछलमन की बगिया सींचे पल पललुकाछिपी सा करता हैप्रेम कहां कब मरता हैकभी तोड़े दे बांध वो सारेकभी  कोई ज्यों दूर पुकारेखेल अनेकों कर...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
bhavna pathak
bhonpooo.blogspot.com
3

पटाखों से हुई ज़हरीली हवा फेफड़ों में धर्म पूछकर नहीं घुसती

       समाचारोंकेअनुसारदिल्लीमेंपिछलीसालकीतरहस्मोगकासितम  इसबारभी छानेवालाहै।विगत  9 अक्टूबरकोमाननीयसर्वोच्चन्यायालयनेएकयाचिकाकीसुनवाईकरतेहुए 31 अक्टूबर  2017 तकदिल्ली-ए...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Ravindra Singh Yadav
हमारा आकाश
3

गुनगुने दिन

गुनगुने से हैं दिन अब रातें अधठंडीमौसम के लिहाफ में शरद लेने लगी है करवट ||सु-मन ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
सु-मन (Suman Kapoor)
बावरा मन
0

Move Your Apps To The SD Card And Have Free Space In The Internal Storage Of Your Device. Your Device Will Work Better.

फोन का डाटा, एसडी कार्ड में ट्रांसफर कर ऐसे करें इंटरनल स्टोरेज खाली     नमस्कार दोस्तों, आप सभी पाठकों का मेरे इस साइट Hindi Tech Natureमें स्वागत् है. आज का यह पोस्ट एंड्राइड स्मार्टफोन इस्तेमाल ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Kamlendra Kamde
Hindi Tech Nature
3

हम-तुम

      हम-तुम चलो फिर से वही अपने, सुहाने दिनों को लें आयें। चलो फिर से वही अपने, ख़ुशी के पलों को लें आयें। न यूँ तन्हां हम-तुम रहें,ख़ुशी का सामान लें आयें। कुछ ख़्वाब हम-तुम देखें,ऐसे पल ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
राकेश श्रीवास्तव
0

दोहागीत "बेटों जैसे दीजिए, बेटी को अधिकार" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

बेटी से आबाद हैं, सबके घर-परिवार।बेटों जैसे दीजिए, बेटी को अधिकार।।दुनिया में दम तोड़ता, मानवता का वेद।बेटा-बेटी में बहुत, जननी करती भेद।।बेटा-बेटी के लिए, हों समता के भाव।मिल-जुलकर म...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
5

दि तराई एजुकेशनल अकादमी ने मनाया डॉलफिन दिवस

बहराइच। आज दिनांक5 अक्टूबर 2017 को दि तराई एजुकेशनल अकाड़मी अम्बा के डॉलफिन ग्रुप के छात्रों को स्कूल में डॉलफिन के विषय में विस्तृत जानकारी दी गयी। संरक्षित करने के उपाय , डॉलफिन एक इंडीकेटर ,पर ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Shahid Mansoori
E & E News
0

खेल के मैदान में लिखी है बदलते भारत की इबारत

फीफा की अंडर-17 विश्वकप फुटबॉल प्रतियोगिता के बहाने हमें बदलते भारत की कहानी देखने की कोशिश करनी चाहिए. यह जूझते भारत और उसके भीतर हो रहे सामाजिक बदलाव की कहानी है. भारत ने अपना पहला मैच 8 अक्तूब...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Pramod Joshi
जिज्ञासा
1
3

817....आंसुओं को पोंछने ख्वाबों में आ जाती है माँ

सादर अभिवादन..तनिक सी ही सोच है.."माँ"औरत का एक ऐसा किरदार है,जिसमें संपूर्णता, पवित्रता, त्याग, ममता,प्यार सब कुछ निहित होता है।शायद ही दुनिया का कोई अन्य रिश्ता ऐसा हो,जिसमें इतनी सारी खूबियाँ ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Yashoda Agrawal
पाँच लिंकों का आनन्द
0

क्या है मुझ में............नौबहार 'साबिर'

बूंदी पानी की हूं थोड़ी-सी हवा है मुझ मेंइस बिज़ाअतपे भी क्या तुर्फ़ांइना है मुझ मेंये जो इक हश्रशबो-रोज़बपाहै मुझ मेंहो न हो और भी कुछ मेरे सिवा है मुझ मेंसफ़्हे-दहर पे इक राज़ की तहरीरहू...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Yashoda Agrawal
मेरी धरोहर
0

बेटी का आना

1 सप्ताह पूर्व
Aparna Bajpai
Bol Skhee Re ( साहित्यिक सरोकारों से प्रतिबद्ध )
12

सारे विश्व में सुना है मना रहे हैं मानसिक स्वास्थ दिवस आज पागल पागल खेलने का दिन है आ जाओ अब बाज

हिदायतें दे रहें हैं चिकित्सक बहुत सारे मुफ्त में ही बेहिसाब और दिन का लिखना अलग बात है बहुत जरूरी है लिखनी आज मन की बात उधर वो बात दिमागी सेहत की बता रहे हैं खाने पीने को ठीक रखना है समझा रहे है...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
डा0 सुशील कुमार जोशी
उल्लूक टाईम्स
0

शामली में गैस रिसाव से ३०० बच्चे बीमार और चेतन भगत

    दिल्ली -एनसीआर में ३१ अक्टूबर तक सुप्रीम कोर्ट ने पटाखों की बिक्री पर रोक लगाई ही थी कि लेखक चेतन भगत उसकी भर्तसना भी करने लग गए यह कहते हुए कि ,''यह हमारी परंपरा का हिस्सा है बिना पटाखों के ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
SHALINI KAUSHIK
! कौशल !
0

प्रेम

   एक संध्या मेरी एक सहेली ने उसके घर की बैठक में लगने वाली तीन सजावटी पट्टियों में से एक, जिस पर ’प्रेम’ शब्द लिखा हुआ था दिखाते हुए कहा, "देखो मेरे पास ’प्रेम’ तो आ गई है; ’विश्वास’ और ’आशा’ आ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Roz Ki Roti
रोज़ की रोटी - Daily Bread
11

दोहे "रहे न खाली हाथ" (डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

त्यौहारों पर किसी का, रहे न खाली हाथ।पञ्च पर्व दीपावली, लाती अपने साथ।।नौ दिन ही नवरात्र के, होते पुत्री पर्व।देवी हैं सब बेटियाँ, जिन पर हमको गर्व।।विजय पर्व के बाद में, लोग हुए निःशंक।अँ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
10

वीर रस की कविताये

ओ भारती के लाल तुझे
तुझे भारती की आन
तू ही भारती की शान
आज रख लेना।।...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
भीकम चंद जांगिड़
4


Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन