अपना ब्लॉग जोड़ें

अपने ब्लॉग को  जोड़ने के लिये नीचे दिए हुए टेक्स्ट बॉक्स में अपने ब्लॉग का पता भरें!
आप नए उपयोगकर्ता हैं?
अब सदस्य बनें
सदस्य बनें
क्या आप नया ब्लॉग बनाना चाहते हैं?
नवीनतम सदस्य

नई हलचल

एक गीत :--------तो क्या हो गया

               एक गीत : --------तो क्या हो गयातेरी खुशियों में शामिल सभी लोग हैं ,एक मैं ही न शामिल तो क्या हो  गया !ज़िन्दगी थी गुज़रनी ,गुज़र ही गईबाक़ी जो भी बची है ,गुज़र जाएगीदो क़दम साथ देकर चली छ...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
0

गीत "स्वार्थ छलने लगे" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

करते-करते भजन, स्वार्थ छलने लगे। करते-करते यजन, हाथ जलने लगे।।  झूमती घाटियों में, हवा बे-रहम, घूमती वादियों में, हया  बे-शरम, शीत में है तपन, हिम पिघलने लगे। करते-करते यजन, हाथ जलन...  और पढ़ें
3 दिन पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
3
Mera Hindi Blog - Intertainment ways to earn at home sex education all type sms jokes love story
3

गौतम का गृह त्याग

गौतम बुद्ध का जन्म ईसापूर्व 563 में लुम्बिनि में हुआ था. उनका नाम सिद्धार्थ रखा गया था और चूँकि गोत्र गौतम था इसलिए सिद्धार्थ गौतम कहलाए. सिद्धार्थ कपिलवस्तु राज्य के राजकुमार थे जो शाक्य वंश क...  और पढ़ें
3 दिन पूर्व
हर्ष वर्धन जोग
3
Mera Hindi Blog - Intertainment ways to earn at home sex education all type sms jokes love story
1
Mera Hindi Blog - Intertainment ways to earn at home sex education all type sms jokes love story
0
0

761..संजिदा सहिफा के ताल्लुकात आजमाने से हैं..

१ ६ /० ८ /२ ० १ ७ || ऊँ भानवे नमः || | मांगल्यम सुप्रभात |प्रारम्भ इस कथ्य से..कुछ तो बात है कि हस्ती मिटती नहीं हमारीसदियों रहा है दुश्मन दौर-ए-ज़मॉ हमारा(इकबाल)स्वतंत्रता  दिवस और जन्माष्टमी पर...  और पढ़ें
3 दिन पूर्व
Yashoda Agrawal
पाँच लिंकों का आनन्द
0

हारना मैने कभी सीखा नहीं....कवि डी. एम. मिश्र

प्यार मुझको भावना तक ले गयाभावना को वन्दना तक ले गया।रूप आँखों में किसी का यूँ बसाअश्रु को आराधना तक ले गया।दर्द से रिश्ता कभी टूटा नहींपीर को संवेदना तक ले गया।हारना मैने कभी सीखा नहींजीत क...  और पढ़ें
3 दिन पूर्व
Yashoda Agrawal
मेरी धरोहर
0

अव्यक्त कहानी

रह गई अब अव्यक्त जो, हूँ वही इक कहानी मैं!आरम्भ नही था जिसका कोई,अन्त जिसकी कोई लिखी गई नहीं,कल्पना के कंठ में ही रुँधी रही,जिसे मैं  परित्यक्त भी कह सकता नहीं।चुभ रही है मन में जो, हूँ वही इक पी...  और पढ़ें
3 दिन पूर्व
पुरूषोत्तम कुमार सिन्हा
3

ऊँची उड़ान पर हैं सारे कबूतर सीख कर करना बन्द पंख उड़ते समय

किसी से उधार ली गई बैसाखियों पर करतब दिखाना सीख लेना एक दो का नहीं पूरी एक सम्मोहित भीड़ का काबिले तारीफ ही होता है सोच के हाथ पैरों को आराम देकर खेल खेल ही में सही बहुत दूर के आसमान को छू लेने का ...  और पढ़ें
3 दिन पूर्व
डा0 सुशील कुमार जोशी
उल्लूक टाईम्स
0

खुद में छिपा वह गुण - श्री अरविन्द घोष

हर व्यक्ति में कुछ न कुछ दैवीय छिपा होता है। कुछ ऐसा, जो केवल उसका होता है और उसमें ही होता है। यह उसका एक ऐसा गुण होता है, जो उसमें अपनी संपूर्णता में विद्यमान मिलेगा और अपनी पूरी शक्ति के साथ। ई...  और पढ़ें
3 दिन पूर्व
HARSHVARDHAN SRIVASTAV
हिन्दपीडिया
0

स्वीकार

   1800 के अन्त की ओर, तथा 1900 के आरंभिक वर्षों में, जॉर्जिया प्रांत के सवान्ना शहर के बन्दरगाह में आने वाले जलपोतों का स्वागत करने के लिए एक बात चिर-परिचित हो गई थी - फ्लोरेंस मार्टस नामक महिला, जो ...  और पढ़ें
3 दिन पूर्व
Roz Ki Roti
रोज़ की रोटी - Daily Bread
4

पाकव्याप्त काश्मिरात पाकिस्तानच्या अत्याचाराविरोधात आंदोलन

इस्लामाबाद : DNA Live24-पाकिस्तानकडून होत असलेल्या अन्यायाविरोधात पाकव्याप्त काश्मीरमधील जनतेने पुन्हा एल्गार केला आहे. हा भाग पाकिस्तानचा अधिकृत भाग नाही, अशी घोषणात येथील नेते मिसफर खान यांन...  और पढ़ें
3 दिन पूर्व
DNA Live Media
DNA Live24
2

जै कन्हैया लाल की - दोहे

कान्हा के कितने रूप और कितने नाम हैे। महाकवि सूरदास जी ने श्यामसुंदर की बाल लीलाओं का जितना मनोहारी चित्रण किया है कहीं और मिलना मुश्किल है। अनगिनत लोकगीतों के माध्यम से जनमानस में यशोदा के ...  और पढ़ें
3 दिन पूर्व
bhavna pathak
bhonpooo.blogspot.com
0

कुछ यात्रा वीडियो

सबसे पहले सभी मित्रों को जन्माष्टमी एवं  स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाये | काफी दिनों से इच्छा थी कुछ यात्रा वीडियो पोस्ट करने की | चलिए  देहरादून यात्रा, शिमला यात्रा , दिल्ली ज़ू और न...  और पढ़ें
3 दिन पूर्व
Nitin Gupta
Travel by Nitin: My experiences
1

शेतकऱ्यांना स्वयंपूर्ण करण्यासाठी राज्य शासन वचनबद्ध- पालकमंत्री प्रा. राम शिंदे

नगर ! DNA Live24-केवळ कर्जमाफीच नाही तर कृषीपूरक योजनांच्या माध्यमातून शेतकऱ्यांना बळकटी देत त्यांना स्वयंपूर्ण करण्यासाठी राज्य शासन वचनबद्ध असल्याचे प्रतिपादन राज्याचे जलसंधारण, राजशिष्टाच...  और पढ़ें
3 दिन पूर्व
DNA Live Media
DNA Live24
0

महाराष्ट्रातील ५६ पोलिसांना राष्ट्रीय पोलीस पदके जाहीर

नवी दिल्ली ! DNA Live24-पोलीस सेवेतील उल्लेखनीय सेवेसाठी आज महाराष्ट्रातील ५६ अधिकारी- कर्मचा-यांना राष्ट्रीय पोलीस पदके जाहीर झालेत. १२ पोलिसांना पोलीस विरता पदक, ३ पोलिसांना विशिष्ट सेवेसाठी र...  और पढ़ें
3 दिन पूर्व
DNA Live Media
DNA Live24
0

न पत्रकार संकट में हैं और न ही पत्रकारिता, हां संकट में वे दलाल जरूर हैं जो अब तक मलाई चाट रहे थे

हरेश कुमारपत्रकारिता संकट में है, क्योंकि पैगंबर के अवतार की हकीकत दुनिया जान चुकी।अब कुछ और साजिश करो। सरकार को बदनाम तो कर न सके, खुद नंगे हो गए इस प्रयास में। तथाकथित धर्मनिरपक्षता और तुष्...  और पढ़ें
3 दिन पूर्व
Haresh
Information2media
3

कहाँ है मेरा हिन्दोस्तान - अजमल सुल्तानपुरी

सभी पाठकों को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएमुसलमाँ और हिन्दू की जान कहाँ है मेरा हिन्दोस्तान मैं उस को ढूँढ रहा हूँ मिरे बचपन का हिन्दोस्तान न बंगलादेश न पाकिस्तान मिरी आशा...  और पढ़ें
3 दिन पूर्व
kuldeep thakur
कविता मंच।
0

श्रीकृष्ण--त्रिगुणात्मक प्रकृति से प्रकट होती चेतना सत्ता---डा श्याम गुप्त...

    कृष्ण जन्माष्टमी पर विशेष------ \\श्रीकृष्ण--त्रिगुणात्मक प्रकृति से प्रकट होती चेतना सत्ता--- \श्रीकृष्ण आत्मतत्व के मूर्तिमान रूप हैं। मनुष्य में इस चेतन तत्व का पूर्ण विकास आत्मतत्व क...  और पढ़ें
3 दिन पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
0

लघुत्तम: सलाम ए आज़ादी

ये अज़ादगी, ये परिन्दगीआसमानों में उड़ती ज़िन्दगीनसीब है जिनकी कुर्बानियों सेसलाम उन ...  और पढ़ें
4 दिन पूर्व
Barun Sakhajee
आम आदमी सरकारी चंगुल में......
3

"रक्षक"

हमारी मातृभूमि के रक्षक वीर जवानों को स्वतन्त्रता दिवस पर समर्पित एक छोटी सी रचना –हिम किरीट के रक्षक तुम,तुझ में शक्ति अपारतुम से रक्षित गौरव राष्ट्र का, तुझे वन्दन बारम्बारहे मातृभूमि रक्...  और पढ़ें
4 दिन पूर्व
Meena Bhardwaj
मंथन
3

स्मृतियों की नींव पर नए भारत का सपना

पाश की कविता है, ‘सबसे ख़तरनाक होता है/ हमारे सपनों का मर जाना।’सपने तमाम तरह के होते हैं। भरमाने वाले, उकसाने वाले और परेशान करने वाले। वे टूटते भी हैं। पर सपनों को होना चहिए। ऐसे सपने जो हम सब ...  और पढ़ें
4 दिन पूर्व
Pramod Joshi
जिज्ञासा
1
Mera Hindi Blog - Intertainment ways to earn at home sex education all type sms jokes love story
3
Mera Hindi Blog - Intertainment ways to earn at home sex education all type sms jokes love story
1
Mera Hindi Blog - Intertainment ways to earn at home sex education all type sms jokes love story
1
Mera Hindi Blog - Intertainment ways to earn at home sex education all type sms jokes love story
0
Mera Hindi Blog - Intertainment ways to earn at home sex education all type sms jokes love story
0

गीतिका "आजादी की वर्षगाँठ" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

चौमासे में श्याम घटा जब आसमान पर छाती है।आजादी के उत्सव की वो मुझको याद दिलाती है।।देख फुहारों को उगते हैं, मेरे अन्तस में अक्षर,इनसे ही कुछ शब्द बनाकर तुकबन्दी हो जाती है।खुली हवा में साँस ले...  और पढ़ें
4 दिन पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
0


Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन