अपना ब्लॉग जोड़ें

अपने ब्लॉग को  जोड़ने के लिये नीचे दिए हुए टेक्स्ट बॉक्स में अपने ब्लॉग का पता भरें!
आप नए उपयोगकर्ता हैं?
अब सदस्य बनें
सदस्य बनें
क्या आप नया ब्लॉग बनाना चाहते हैं?
नवीनतम सदस्य

नई हलचल

अंधाधुंध विकास, पड़ी प्रायश्चित रोवे-

होवे हृदयाघात यदि, नाड़ी में अवरोध ।पर नदियाँ बाँधी गईं, बिना यथोचित शोध ।बिना यथोचित शोध, इड़ा पिंगला सुषुम्ना ।रहे त्रिसोता बाँध, होय क्यों जीवन गुम ना ?अंधाधुंध विकास, पड़ी प्रायश्चित रोवे ।भौ...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
रविकर
रविकर की कुण्डलियाँ
52

बड़ी चुनौती है यही, सभी चाहते प्यार-

रोना कितने भूलते, सोना हुआ हराम । गिरते गिरते गिर गए, जो सोने के दाम । समझे मन के भाव को,  रविकर सत्य सटीक । कभी नहीं हैरान हो, ना रिश्तों में हीक ॥ बड़ी चुनौती है यही, सभी चाहते प्यार । कि...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
रविकर
"कुछ कहना है"
52

मन के विकार

त्रुटिकाकदमतनापिये,कदमेंनाकुछभेद|पूरीनैयादेडुबा, इकनन्हा  साछेद||गलतीसेमत भागिये ,छुपनाहैबेकार|गलती,गलतीहीरहे ,होकोईआकार||धरतीपरजैसेरचे, जनजीवनकर्तार|माटीसेगढ़ता रहा ,बर्तनदेखकु...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
76

The Model - La modella - माडल

Bologna, Italy: While we were waiting for the start of the annual GLBTI pride parade, I saw a young woman making different poses for a photographer. Today's images are from that photoshot.बोलोनिया, इटलीः वार्षिक समलैंगिक गर्व परेड के प्रारम्भ की प्रतीक्षा में खड़े थे तो एक ओर एक युवती को अलग अलग मुद्राएँ ब...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
SUNIL DEEPAK
Chayachitrakar - छायाचित्रकार
51

नेता रह मत भूल में, मत-रहमत अनमोल-

मत की कीमत मत लगा, जब विपदा आसन्न ।आहत राहत चाहते, दे मुट्ठी भर अन्न ॥आहत राहत-नीति से, रह रह रहा कराह |अधिकारी सत्ता-तहत, रिश्वत रहे उगाह ॥घोर-विपत आसन्न है, सकल देश है सन्न ।सहमत क्यूँ नेता नहीं, ...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
58

होमगार्ड सरकार, यहाँ पर बिलकुल बेवा-

अब कश्मीर को स्वर्ग कहना बेमानी ! आधा सच... महेन्द्र श्रीवास्तव बेबाकी से रख दिया, बाकी भी बेकार |देख शिकारे कर रहे, कैसे हमें शिकार |कैसे हमें शिकार, रेट सबके मनमाने |बड़ा कमीशन जाल, सेब कश्मी...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
रविकर
"लिंक-लिक्खाड़"
51

"कैसे साथ चलोगे मेरे?" (डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

चारों ओर दुःख के घेरे। कैसे साथ चलोगे मेरे? पथ में कंटक-धूल भरी है, खाई और गूल गहरी है, निगल रहे हैं धूप अँधेरे।  कैसे साथ चलोगे मेरे? दूषित अपना गंगाजल है, परिवेशों में घुला गरल है, आज रश्...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
51

निष्क्रियता

निष्क्रियता से संदेह और डर पैदा होता है जबकि क्रियाशीलता भरोसे और साहस को जन्‍म देती है --- डेल कार्नेगी ...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
रौशन जसवाल विक्षिप्‍त
30

समस्‍याएं

हमारी समस्‍याएं मनुष्‍य निर्मित है इसलिए उसे मनुष्‍य ही सुलझा सकता है। --- जॅान एफ कैनेडी ...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
रौशन जसवाल विक्षिप्‍त
39

कठोर वाणी

कठोर वाणी अग्निदाह से भी अधिक तीव्रता से दुख पहुंचाती है। --- चाणक्‍य...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
रौशन जसवाल विक्षिप्‍त
36

bijli mahadev trek start ,बिजली महादेव की चढाई

bijli mahadev trek start ,बिजली महादेव की चढाई ये बिजली महादेव का रास्ता गांव से गुजरने के बाद करीब डेढ किलोमीटर रह जाता है । गांव के बाद रास्ते में करीब दस बारह दुकाने बनी है जो कि सारी की सारी बंद थी । वजह एक त...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
Manu
yatra (यात्रा ) मुसाफिर हूं यारो .............
96

प्रभु सुन लो गुज़ारिश : चर्चा मंच 1293

शुभम दोस्तो मैं सरिता भाटियाहाजिर हूँजुलाई महीने की पहली तारीख को पहले सोमवार की पहली चर्चा लेकर  ''प्रभु सुन लो गुज़ारिश ''बहुत याद आएगीरश्मि शर्मा आशिकों की रहनुमाईसुरेश स्व...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
210

मुसलमान हिन्दू से कभी अलग नहीं

मुसलमान हिन्दू से कभी अलग नहीं ''दिल में जब रौशनी की ख्वाहिश हो ,      शौक से मेरा घर जला लेना .''-मोहम्मद अकरम        एक दूसरे के प्रति कुर्बानी के भाव तक प्रेम में आकंठ डूबे हिन्दू-मुस्...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
SHALINI KAUSHIK
! कौशल !
62

दांवपेंच -एक लघु कथा

कैप्शन जोड़ेंअलका को ससुराल से मायके आये एक दिन ही बीता था कि माँ ने उसकी एकलौती भाभी को उसके मायके भेज दिया .माँ बोली -''जब तक अलका है तुम भी अपने घर हो आओ .तुम भी तो मिलना चाहती होगी अपने माता-पित...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
SHIKHA KAUSHIK
भारतीय नारी
58

दांवपेंच -एक लघु कथा

कैप्शन जोड़ेंअलका को ससुराल से मायके आये एक दिन ही बीता था कि माँ ने उसकी एकलौती भाभी को उसके मायके भेज दिया .माँ बोली -''जब तक अलका है तुम भी अपने घर हो आओ .तुम भी तो मिलना चाहती होगी अपने माता-पित...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
SHIKHA KAUSHIK
मेरी कहानियां
75

तपी दोपहर

       तपी दोपहरतपी धूप करती रही,  टुकड़ा छांव तलाश |नहीं मिली तो आ गई,थक सूरज के पास||तपी धूल पर तप रहे,हर पल सबके पांव |वृक्षों से खाली हुए, लगभग सारे   गांव||तपी दुपहरी हो गई,असहनीय अब धूप |ल...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
59

अदा तुम्हारी अच्छी है

       वस्ल हो की जुदाई , हर अदा तुम्हारी अच्छी है. मुहब्बत में जान लेने की अदा तुम्हारी अच्छी है. औरों से खुलकर मिलना, मुझसे हिजाब में, आशिक को तड़पाने की अदा तुम्हारी अच्छी है. ...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
KAVYASUDHA (काव्य सुधा)
KAVYA SUDHA (काव्य सुधा)
54

गजल-1.65

जगमे तँ सब दोषी मुदा दोष नै दीनाँगर कहै आँगन बहुत टेढ़ छै जीटूटल महल फाटल वसन सी सकब हमकोना कऽ फाटल कोढ़ टूटल हिया सीछै शहर भरिमे गजब डर आइ पसरलकानै हवा लागैछ फेरो जरल धीसबकेँ कहै छी चोर सब ठाम घप...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
AMIT MISHRA
37

आइये जानते है पुराने स्मार्टफोन-टैबलेट को अपग्रेड करने के कुछ टिप्स

कुछ समय पहले खरीदा गया स्मार्टफोन या टैबलेट क्या चंद फीचर्स नहीं होने के कारण पुराना लगने लगा है? नए के लिए दोबारा से 10 से 30 हजार रुपये खर्च न करने के कारण क्या आप पुराने फीचर्स ही इस्तेमाल करने ...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
manojjaiswalpbt
मजेदार दुनियाँ
199

Motivational and Inspirational Quotes...part 4

Motivational and Inspirational Quotes...part 4 दोस्तों,कुछ और प्रेरणादायक कथन ,दुनिया की उन महान हस्तियों के ,जिनके नाम तो मुझे नहीं पता ,लेकिन पूरे आभार सहित ये quotes आप सबकी नजर हैं --Aim for the moon. Even if you miss, you'll land amongst the stars.The important thing is not to stop que...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
dr.neeraj yadav
Achhibatein
140

खामोश आवाजें

वक्त के कोरे पन्नों पर कुछ आड़ी, कुछ तिरछी लाइनें खींचता रहता हूं मैं कितनी बातें हैं इस छोटे से मन में बतलाने को जमाने को खुद से ही कहता रहता हूं मैं कितना आक्रोश है मुझमें यूं लगता है गुस्से स...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
darshan jangra
प्रेम के फूल
72

हर डिवाइस के साथ होगा पीसी सिंक

तकनीक ने अपना जाल इस कदर फैला लिया है की आज हर यूजर के पास कंप्यूटर के अलावा कम से कम एक डिवाइस जरुर होता है भले ही वह लेपटॉप  स्मार्ट फ़ोन हो या टेबलेट पीसी ! इन दिनों टेबलेट के भी मोडल काफी पसं...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
bheemraj
internet ki bate
77

"दोहे-तुलसी, सूर-कबीर" (डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

कालजयी साहित्य दे, चलते बने फकीर।नहीं डॉक्टर बन सके, तुलसी, सूर-कबीर।१।आगे जिसके नाम के, लगा डॉक्टर होय।साहित्य के नाम पर, समझो उसे गिलोय।२।छन्दशास्त्र का है नहीं, जिनको कुछ भी ज्ञान।वो कविता ...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
287

“कुछ फुटकर दोहे मेरे भी” (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री ‘मयंक’)

चार चरण दो पंक्तियाँ, लगता ललित-ललाम।इसीलिए इस छन्द ने, पाया दोहा नाम।१।लुप्त हो गया काव्य का, नभ में सूरज आज।बिना छन्द रचना करें, ज्यादातर कविराज।२।बिन मर्यादा यश मिले, छन्दों का क्या काम।पद...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
71

दिल्ली विश्वविद्यालय की विज्ञान विषयों की दूसरी कट-ऑफ सूची जारी

दिल्ली विश्वविद्यालय के कुछ विद्यालयों ने विज्ञान विषयों में प्रवेश के लिए अहर्ता अंकों में कटौती के साथ रविवार को दूसरी कट-ऑफ सूची जारी की। लेडी श्रीराम कॉलेज, रामजस कॉलेज तथा हंसराज कॉलेज ...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
रजनीश के झा (Rajneesh K Jha)
69

श्री राम जन्म भूमि संघर्ष गाथा ?

राज सत्ता के लिए भले ही राम जन्म भूमि और मंदिर कोई स्थान ना रखता हो लेकिन भगवन राम हमारे आराध्य है और रहेंगे भगवन रा...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
rajesh dubey
8

अफ्रीकी युवा मंडेला के जीवन से लें प्रेरणा : ओबामा

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने शनिवार को अफ्रीकी युवाओं से अपील की कि वे देश का भविष्य संवारने के लिए दक्षिण अफ्रीका के पूर्व राष्ट्रपति नेल्सन मंडेला के पदचिह्नें का अनुसरण करें। समाचार...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
रजनीश के झा (Rajneesh K Jha)
72

पाकिस्तान के पेशावर में बम विस्फोट, 14 मरे, 25 घायल

पाकिस्तान के उत्तर पश्चिम में स्थित पेशावर शहर में रविवार को अर्धसैनिक बलों के काफिले को निशाना बनाकर किए गए कार बम विस्फोट की चपेट में आने से तीन बच्चों सहित कम से कम 14 लोग मारे गए और 25 अन्य घा...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
रजनीश के झा (Rajneesh K Jha)
73

दोहा छंद...

कुछ दोहे मेरी कलम से.....बड़ा सरल  संसार है  , यहाँ  नहीं  कुछ गूढ़है तलाश किसकी तुझे,तय करले मति मूढ़.  कहाँ   ढूँढता  है  मुझे   ,  मैं  हूँ  तेरे  पासमैं तुझ सा साकार कब, मैं केवल...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
139

काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान बाढ़ से निपटने के लिए तैयार

ब्रह्मपुत्र और उसकी सहायक नदियों में जलस्तर बढ़ने के साथ ही असम के काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान के अधिकारियों ने चेतावनी की घोषणा कर दी है और बाढ़ की सम्भावना से निपटने के लिए कदम उठाने शुरू कर ...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
रजनीश के झा (Rajneesh K Jha)
60


Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन