अपना ब्लॉग जोड़ें

अपने ब्लॉग को  जोड़ने के लिये नीचे दिए हुए टेक्स्ट बॉक्स में अपने ब्लॉग का पता भरें!
आप नए उपयोगकर्ता हैं?
अब सदस्य बनें
सदस्य बनें
क्या आप नया ब्लॉग बनाना चाहते हैं?
नवीनतम सदस्य

नई हलचल

टैस्ट चर्चा मंच की दूसरी चर्चाकार "बबली"

टैस्ट चर्चा मंचकी नई चर्चाकारश्रीमती उर्मी चक्रवर्ती (बबली)का मैं स्वागत और अभिनन्दन करता हूँ!इस मंच पर ये अपनी चर्चा शनिवार, रविवार, सोमवार और मंगलवार को लगाएँगी!♥ संक्षिप्त परिचय ♥श्रीम...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
वैकल्पिक चर्चा मंच
58

बजरंग बली उर्फ़ .........

कॉलेज के एक कर्मचारी वाजपेयी ने पिछले दिनों एक बड़ी मार्के की बात कह दी.कहा ,जानते हैं सर ,बजरंग बली को हमलोग 'भूमि अतिक्रमण पदाधिकारी ' कहते हैं.बात सही भी है.जिस जगह बजरंग बली की मूर्ति स्थापित ...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
राजीव कुमार झा
52

"टेस्ट चर्चा-2" (विद्यामनीषा)

नमस्कार मित्रों! आज की चर्चा में आप सबका हार्दिक स्वागत हैपरियों की शहजादी...from रुनझुनby "रुनझुन"नाचते ही जा रहे हैं, अंकल सैमfrom अनवरतby drdwivedi1दिल से दिल मिल जाने पर" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक")from उच्...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
वैकल्पिक चर्चा मंच
71

राहुल को प्रधानमंत्री देखना चाहते हैं...

हिन्दुस्तान का शहज़ादा फ़िरदौस ख़ानकांग्रेस के युवराज राहुल गांधी प्रधानमंत्री पद के लिए देशवासियों की पहली पसंद हैं. सीएनएन-आईबीएन और सीएनबीसी-टीवी 18 टीवी नेटवर्क  के सर्वे के मुताबिक...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Firdaus Khan
मेरी डायरी
79

मेरी परिधि

मेरे परो की क्षमता को,मापदंडो से ना परखो तुम,मेरे ख्वाबो की उड़ान को,मेरे कृत्यों से ना नापो तुम,मैं पंछी  मतवाला हूँतुम्हारी परिधि का दास नहीं,प्रेम परिधि से बंधा हूँ,पर यह ना समझो मुझे,मेरी ...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
अखिलेश रावल
"मेरे भाव मेरी कविता"
78

"अन्तरराष्ट्रीय मित्रता दिवस आज ही है" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक")

The first World Friendship Day was proposed for 30 July 1958.On 27 April 2011the General Assembly of the United Nations declared[3]30 July as official International Friendship Day.However, some countries, including India[4], celebrate Friendship Day on the first Sunday of August.इस हिसाब से तो आज ही मित्रता दिवस है।मित्रता दिवस पर बहुत-बहुत शुभकामनाएँ!अगल...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
73

हे श्याम सुंदर हे मुरलीधर

हे श्याम सुंदर हे मुरलीधरकेहन बिगड़ल तकदीर देलउंहम बालापन के मित्र छलहुं खेललहुं-कुदलहुं संगे-संगेहे श्याम सुंदर हे मुरलीधर केहन बिगड़ल तकदीर देलहुंहम बालापन के मित्र छलहुंपढ़लहुं लिखलह...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Manish Mishra
अक्षत-मन AKSHATMANN
62

जय-जय भै‍रवि असुर भयाउनि

जय-जय भै‍रवि असुर भयाउनिपशुपति भामिनी मायासहज सुमति कर दियउ गोसाउनिअनुगति गति तुअ पायावासर रैनि सबासन शोभितचरण चन्‍द्रमणि चूड़ाकतओक दैत्‍य मारि मुख मेललकतओ उगिलि कएल कूड़ासामर बरन नयन अ...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Manish Mishra
अक्षत-मन AKSHATMANN
81

थकी जिंदगी की ख्वाहिश

कभी जिंदगी मुस्कुराती थी कभी जिंदगी रुलाती थी कभी धुप-छाँव से खेलाती थी पार आज एक ख़ामोशी है तन्हाई के आगोश मेंखुद सहारे को तरसती रेत के घरोंदे को तकती कुछ नहीं बस इन्तेज़ार कब बदलते मौसम में ...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
अखिलेश रावल
"मेरे भाव मेरी कविता"
76

‘‘महाकवि तुलसीदास’’ (डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री ‘मयंक’)

‘‘महाकवि तुलसीदास’’ "सूर-सूर तुलसी शशि, उडुगन केशव दास।अब के कवि खद्योत सम, जहँ-तहँ करत प्रकाश।।’’ब्लागर मित्रों!आज से 20 वर्ष पूर्व मेरा एक लेखनैनीताल से प्रकाशित होने वालेसमाचारपत्र"दै...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
116

लूट के लिये बड़े आयोजन

राष्ट्रमंडल खेलों को लेकर जो भ्रष्टाचार के आरोप लग रहे हैं उस बीच भारत के नियंत्रक एवं महालेखापरीक्षक [कैग] की रपट भ्रष्टाचार को प्रमाणित करती प्रतीत होती है। खुशी की बात है कि सर्वोच्च न्या...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Manisha
www.HindiDiary.com
37

तू ही तू .....

तेरी रंगत यूँ बिखरी मेरी आँखों में हैतेरी सरगोशी मेरे उलझे रुखसारों में हैतेरा एहसास यूँ जज़्ब मेरे जर्रे जर्रे में हैतेरा नाम अब मेरे हाथों की लकीरों में है........          &nbs...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
सु-मन (Suman Kapoor)
अर्पित ‘सुमन’
56

कृपया ध्यान दें॥ (Attention Please)

नमस्कार !मैं इंजी० महेश बारमाटे "माही", आपका अपने ब्लॉग "कुछ दिल से..." में आने का शुक्रिया अदा करता हूँ... आप आए और आपने हिंदी ब्लॉग्गिंग गाइड को मेरी नज़र से जाना...ख़ुशी हुई कि आपने मेरा उत्सा...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Mahesh Barmate
Kuchh Dil Se...
91

मैं तो रामदेव दीवानी (व्यंग्य)

दुनिया में दो लोग कुछ भी कर सकते हैं- पहले तो जाहिर सी बात है रजनीकांत ही होंगे। लेकिन जो दूसरा नाम है वो है असली धमाका। जी हां, धमाके पे धमाके करने वाली ड्रामा क्वीन राखी सावंत। राखी जब भी कुछ कर...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Sumit
32

"टैस्ट चर्चा मंच की सहयोगी" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक")

मित्रों!     आज में आपका परिचय एक ऐसी ब्लॉगर से करा रहा हूँ जो बहुत जल्दी “चर्चामंच” की चर्चाकार बन जाएँगी। अभी यह टैस्ट चर्चा मंच पर चर्चा लगाने क अभ्यास कर रहीं हैं मगर जैसे ही पारंगत ...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
वैकल्पिक चर्चा मंच
65
मेरी बात तेरी बात...
70
मेरी बात तेरी बात...
226

सांप हो तुम दूध तो पीना ही पड़ेगा (व्यंग्य)

नाग पंचमी है और सांप को दूध पिलाने का रिवाज है। वैज्ञानिक कहते हैं सांप दूध नहीं पीते, वे दूध पी नहीं सकते पर हमारे घर वालों ने कहा जा सांप को दूध पिला के आ। वैसे भी बहुत सारे पाप किए हैं जीवन में ...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Sumit
40

"आप सब का स्वागत चर्चा मंच पर! नए जोश के साथ!" (विद्या मनीषा)

पहले सब को मेरा नमस्कार ,यह चर्चा मंच बहुत कुछ सिखाता है बहुत  कुछ जाने ने को  मिलता है यह हम सब की एक चाबी है ! इसमे सब कुछ इकठा ही एक जगह पढ़ने को मिल जाता है!(डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री ‘मयंक’) जी ...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
वैकल्पिक चर्चा मंच
65

हिंदी ब्लॉग्गिंग गाइड : मेरी नज़र से (भाग 5)

वो देखो मेरा ख्वाब चला आ रहा है "माही"के ज़मीन पे पैर अब पड़ते नहीं मेरे... आज हिंदी ब्लॉग्गिंग गाइड के अन्य लेखों व लेखकों के बारे में चर्चा करने से पहले मैं आपको एक नयी खुशखबरी देना पसंद करूँग...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Mahesh Barmate
Kuchh Dil Se...
94

यूँ करना

जिस रात सुबह की आस छूट जायेखुदा यूँ करना की मेरी नींद न खुलेअपने जब ख्वाब के किरदार न रहेंउन्हें बिस्तर पे हाथ जब न टटोले जिस रात खुदगर्जी हावी हो जाये खुदा यूँ करना की मेरी नींद न खुलेजब ...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Shankar M
Thoughtscroll
70

"सूचना" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक")

मान्यवर,        यह “टैस्ट चर्चा मंच”उन नये व्यक्तियों के लिए है, जो “चर्चा मंच”से जुड़कर चर्चा करने के इच्छुक हैं। आप अपने चर्चा करने के ढंग को नमूने के रूप में अपनी एक चर्चा करके यहा...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
वैकल्पिक चर्चा मंच
79

रियल्टी शो : आधी हकीकत आधा फ़साना

आजकल विभिन्न टीवी चैनलों पर रियल्टी शो की भरमार है.इनमें कितने शो रियल्टी हैं,कितने बनावटी दर्शकों को अंदाज लगाना मुश्किल नहीं.रियल्टी शो के नाम पर दर्शकों के सामने जो कुछ भी परोसा जा रहा ह...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
राजीव कुमार झा
47

या ख़ुदा तूने अता फिर कर दिया रमज़ान है...

फ़िरदौस ख़ानमरहबा सद मरहबा आमदे-रमज़ान हैखिल उठे मुरझाए दिल, ताज़ा हुआ ईमान हैहम गुनाहगारों पे ये कितना बड़ा अहसान हैया ख़ुदा तूने अता फिर कर दिया रमज़ान है...माहे-रमज़ान इबादत, नेकियों और रौन...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Firdaus Khan
मेरी डायरी
73

“मेरी पन्तनगर यात्रा” (डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री “मयंक”)

मेरी एक दिन की पन्तनगर यात्राबहुत दिन हो गये थे घर में पड़े-पड़े! रोज़मर्रा का वही काम। सुबह ठना कम्प्यूटर खोलना, मेल चेक करना और ब्लॉगिंग करना। इस काम से अब खीझ होने लगी थी! इसलिए सोचा कि कहीं...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
199

"उपन्यास सम्राट मुंशी प्रेमचन्द के जन्म-दिवस पर विशेष"

मुंशी प्रेमचन्द का जीवन परिचय (Premchand's Biography)जन्म-प्रेमचन्द का जन्म ३१ जुलाई सन् १८८० को बनारस शहर से चार मील दूर लमही गाँव में हुआ था। आपके पिता का नाम अजायब राय था। वह डाकखाने में मामूली नौकर के ...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
223

तब और अब

वो चले गये कुछ छोड़ यहॉ, जिसको हमने अपनाया है।अपनी संस्कृति को त्याग-त्याग, फिर गीत उन्हीं का गाया है।।चाय काफिया काफी को, छोड़ा उन लोगो ने लाकर।हमने फिर ग्रहण किया उसको, उनका सहयोग सदा पाकर।अ...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
M.P. Pandey 'Nand'
नन्दानन्द (NANDANAND)
90

अपनी संस्कृति को त्याग-त्याग, फिर गीत उन्हीं का गाया है।

अपनी संस्कृति को त्याग-त्याग, फिर गीत उन्हीं का गाया है।महेन्‍द्र प्रताप पाण्‍डेय 'नन्‍द'-वो चले गये कुछ छोड़ यहॉ, जिसको हमने अपनाया है।अपनी संस्कृति को त्याग-त्याग, फिर गीत उन्हीं का गाया है।...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
M.P. Pandey 'Nand'
नन्दानन्द (NANDANAND)
68


Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन