अपना ब्लॉग जोड़ें

अपने ब्लॉग को  जोड़ने के लिये नीचे दिए हुए टेक्स्ट बॉक्स में अपने ब्लॉग का पता भरें!
आप नए उपयोगकर्ता हैं?
अब सदस्य बनें
सदस्य बनें
क्या आप नया ब्लॉग बनाना चाहते हैं?
नवीनतम सदस्य

नई हलचल

दीपावली की शुभकामनाएं

आपको और आपके पूरे परिवार को बचपन के रंग परिवार की तरफ से दीपावली की शुभकामनाएं।...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
Deen Dayal Singh
बचपन के रंग
126

दो पाटन के बीच

उपन्यास अंश दो पाटन के बीच अनवर सुहैल आटा-चक्की के कानफाड़ू 'खटपिट खटपिट' का शोर सलमा का कुछ नहीं बिगाड़ पाता। सलमा को जीवन की राह की तमाम दिक्कतों और परेशानियों से दो-चार होने में बड़ा मज़ा आता है...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
anwar suhail
गुमशुदा चेहरे / gumshuda-chehre
88

कुछ मेरी भी खता होगी...

हर फैसला मेरे बाबत उसी का थावो शक्स जो मुझे अब पहचानता नहींउसकी यादो के सहारे ही जी लेतेजो वो ख्वाबो में आकर सताता नहींनहीं-नहीं ये खबर मेरे दुश्मनों की होगीउसके बालो में अब गजरा महेकता नहींक...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
सुधीर मौर्य
ब्लाग तड़ाग
92

दीपावली पर हाइकु

आई दिवालीकाली अँधेरी रातहुई रौशन       ***पूजा-अर्चना दीप हुए रौशनहर्षित मन      ***चले पटाखेढेर सारी मिठाईखील-बताशे       ***बिखरा किएफुलझड़ी के फूल खुश हों बच्चे      *...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
Sarika Mukesh
अंतर्मन की लहरें Antarman Ki Lehren
55

आप सभी को दिवाली की शुभकामनाये .

प्रिय आत्मिक मित्रो ;आप सभी को दिवाली की शुभकामनाये . ईश्वर , आपको और आपके परिवार को सुख और शान्ति देवे। यही मंगलकामना है . आपका विजयकुमार              image courtesy : google images My Dear Souls ; I wish you all ...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
vijay kumar sappatti
कविताओं के मन से....!!!!
193

"अभिमन्यु"- मेरा बेटा

यह एक सुखद संयोग है कि (ईस्वी संवत् के हिसाब से) मेरे बेटे का पन्द्रहवाँ जन्मदिन आज दीपावली के दिन ही पड़ा है। भारतीय पंचांग के हिसाब से उसका जन्मदिन गुरू नानक जयन्ती वाले दिन पड़ता है। उसका जन्म ...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
जयदीप शेखर
कभी-कभार
64

HAPPY DIPAWALI

5 वर्ष पूर्व
KARTIKEY RAJ
समाज
286

No Title

5 वर्ष पूर्व
Rajesh Tripathi
Kalam Ka Sipahi / a blog by Rajesh Tripathi कलम का सिपाही/ राजेश त्रिपाठी का ब्लाग
60

No Title

May the beauty of this Deepavali fill your home with happiness and may the coming year provide you with all that brings you joy! Happy Diwali....  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
vijay kumar
मैं और उनकी तन्हाई
70

दिवाळीच्या हार्दिक शुभेच्छा!

स्नेहाचा सुगंध दरवळला,आनंदाचा सण आला.विनंती आमची परमेश्वराला,सौख्य, समृध्दी लाभो तुम्हाला.दिवाळीच्या हार्दिक शुभेच्छा!- केदार भोपे आणि परिवार http://kedarbhope.blogspot.in/...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
Kedar bhope
केदार भोपे
49

आओ सब एक दीप जलायें

                    **दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं** आओ सब एक दीप जलायें,मिलजुल कर त्यौहार मनायें.भेद भाव के अंधियारे को मिलकर के हम आज भगायें.किसी भी घर न हो अंधियारा,एक दीप हर द्वार...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
Kailash Sharma
बच्चों का कोना
83

ग़ज़ल(इलाज )

हुआ इलाज भी मुश्किल ,नहीं मिलती दबा असली दुआओं का असर होता दुआ से काम लेता हूँमुझे फुर्सत नहीं यारों कि माथा टेकुं दर दर पे अगर कोई डगमगाता है उसे मैं थाम लेता हूँखुदा का नाम लेने में क्यों मुझस...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
Madan mohan saxena
ग़ज़ल गंगा
49

डा श्याम गुप्त की कहानी - मंत्री जी शहर में ...

-                                        संतुलित कहानी----मंत्री जी शहर में               [ ये  कहानियां मूलतः जन सामान्य की सांस्कृतिक, वैचारिक व व्यावहारिक समस्...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
  Sawai Singh Rajpurohit
एक ब्लॉग सबका
76

Subh Diwali

आप सभी साथियों को , परिवार के सभी सदस्यों को पावन पर्व दीपावली की हार्दिक शुभ-कामनाएं Dear all, Wish u and your family a very happy diwali & prosperous new year. May God fulfill all your wishes in wealth, health & happiness in your life.“मैं आशा करता हूँ कि दीवाली के इस स...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
ATUL WAGHMARE
0

"तम मिटाने को, दिवाली आ गयी है" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

!! शुभ-दीपावली !! तम अमावस का मिटाने को,दिवाली आ गयी है।दीपकों की रोशनी सबके,दिलों को भा गयी है।।जगमगाते खूबसूरत, लग रहे नन्हें दिये,लग रहा जैसे सितारे ही, धरा पर आ गये,झोंपड़ी महलों के ज...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
110

"दीप-उत्सव पर बहुत शुभ-कामनाएँ" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

!! शुभ-दीपावली !!दूर करने को अन्धेरा दीप झिलमिल जल रहे। स्नेह पाकर प्यार का दीपक खुशी से खिल रहे।।दीन की कुटिया-भवन जगमग हुए आलोक से।लग रहा मानों सितारे आ गये द्यु-लोक से।।प्रेम से करना "गजानन-...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
205

HAPPY DIWALI

5 वर्ष पूर्व
Markand Dave
M.K.TVFilms - HINDI ARTICLES
71

एक सच

 नादनगी में दिवानगी मेंऔर सादगी मेंमैं जब कभीलोगों के पास होता हूँमुझपर सभीहँस लिया करते हैं।भावुकता मेंसरलता मेंऔर सहजता में मैं जब-कभी पारदर्शी हो जाता हूँमुझमें सभी  देख लिया करते है...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
pranav priyadarshi
समय से संवाद
56

सृष्टि महाकाव्य-नवम सर्ग---प्रज़ा खंड...डा श्याम गुप्त......

सृष्टि महाकाव्य-नवम सर्ग---प्रज़ा खंड....          सृष्टि महाकाव्य-(ईषत- इच्छा या बिगबेंग--एक अनुत्तरित उत्तर )-- -------वस्तुतसृष्टिहरपल, हरकणकणमेंहोतीरहतीहै,यह एकसतत प्रक्रियाहै , जोब्र...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
Drshyam
अगीतायन
92

माँ से दूर

माँ बुलाती है मुझेफैला के अपना दामन ड्योढ़ी के मुहाने पर बैठ जाती है हर रोज़ मेरे आमद की आस लिए अपने तनय की पदचाप सुनने कहती हवाओं से जल्दी पश्चिम से आ जाओ खबर कोई ख़ास लिए हवाओं से ही चुम्बन दे ...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
निहार रंजन
बातें अपने दिल की
62

दिवाली

अमनकेरथपरआयीदिवाली, चारोंओरहैखुशहाली।भूलजाओअबसारेदुःख, लाईहैदिवालीढेरोंसुख। सबअधरोंपरमुस्कानपाओ, घरमेंदीपकतभीजलाओ। जिसगेहमेंहोअन्धेरा, उसघरमेंकरदोसवेरा।आजकीरातकोईनरोए, भूख...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
kuldeep thakur
man ka manthan. मन का मंथन।
58

प्रीति का एक दीपक जलाओ सखे !......डा श्याम गुप्त ....

                                              चित्र गूगल- साभार  प्रीति  का एक दीपक जलाओ सखे !देहरी का सभी तम सिमट जायगा | प्रीति का गीत इक गु...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
  Sawai Singh Rajpurohit
एक ब्लॉग सबका
66

असफलता की राहों पर ......

असफलता की राहों पर ,सफलता के गीत गाए ।आसमान के तारों पर ,वीरता के झंडे लगायें ।।प्रतिभा और जुनून का कमाल ,छोटी उम्र में बड़े धमाल ।ऐसे भी थे नौजवान ,मातृभूमि पर दिया बलिदान ।।उन शहीदों को याद कर...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
YASHVARDHAN SRIVASTAV
42

ये आंसू मेरे दिल की जुबान हैं...

आँखों में ये खारा पानी कहाँ से आता है किस कैमिकल लोचे से यह होता है,सबसे पहले किसकी आँख में यह लोचा हुआ और क्यों ? और कब इसे एक इमोशन से जोड़ दिया गया,और कब एक स्त्रियोचित गुण बना दिया गया,य...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
Shikha varshney
स्पंदन SPANDAN
52

अच्छी बातों के बुरे भाव ....ड़ा श्याम गुप्त

                         अच्छी बातों के बुरे भाव ....                हम भारतीय यह सोच कर, मानकर मस्त हैं कि बुरा मत देखो, बुरा मत कहो, बुरा मत सोचो ......  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
  Sawai Singh Rajpurohit
एक ब्लॉग सबका
76

“खों-खों करके बहुत डराता” (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री ‘मयंक’)

दीपावली की शुभकामनाओं के साथएक बाल कविताबिना सहारे और सीढ़ी के,झटपट पेड़ों पर चढ़ जाता।बच्चों और बड़ों को भी ये,खों-खों करके बहुत डराता।  कोई इसको वानर कहता,कोई हनूमान बतलाता।मानव का पुरखा ...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
58

सबका अपना-अपना दीपावली उपहार!

दीपावली आदिकाल में आर्यों की आर्थिक सम्पन्नता एवं हर्षोल्लास का उत्सव हुआ करती थी। जिसमें कृषि उपज को आर्थिक सम्पन्नता का मापदण्ड माना जाता था। फसल के घर आने को स्वर्ण माना जाता था। वर्षभर क...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
Kavita Rawat
KAVITA RAWAT
135

शब्द सक्रिय रहेंगे

धरती जितनी बची है कविता मेंउतनी ही कविता भी साबूत हैधरती के प्रांतरों में कहीं-न-कहींयानी कोई बीज अभी अँखुआ रहा होगा नम-प्रस्तरों के भीतर फूटने कोकोई गीत आकार ले रहा होगा गँवार गड़ेरिया के कं...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
सुशील कुमार
स्पर्श | Expressions
72

No Title

 ॐतमसो माँ ज्योतिर्गमय भारतीय संस्कृति की उद्घोषणा तम  से प्रकाश की और बढ़ें  ,के साथआओ मिल कर प्रकाश पर्व मनाएं इस शुभ अवसर परआप को सपरिवार हार्दिक शुभकामनायें प्रदान करता हूँ...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
  Sawai Singh Rajpurohit
एक ब्लॉग सबका
66

काफ़िला

5 वर्ष पूर्व
Imran Ansari
जज़्बात...दिल से दिल तक
46


Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन