अपना ब्लॉग जोड़ें

अपने ब्लॉग को  जोड़ने के लिये नीचे दिए हुए टेक्स्ट बॉक्स में अपने ब्लॉग का पता भरें!
आप नए उपयोगकर्ता हैं?
अब सदस्य बनें
सदस्य बनें
क्या आप नया ब्लॉग बनाना चाहते हैं?
हमारे विषय
नवीनतम सदस्य

नई हलचल

मुनाफे की कैद में है मीडिया-साईनाथ

मेरी जानकारी में आपका यह कान्फ्रेन्स तीन दिनों का है। तीन दिनों में औसतन क्या-क्या होता है, अपने देश में? ग्रामीण भारत में तीन दिन के अंदर अगर एनसीआरबी (नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो) के डाटा का ...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
loksangharsha
लो क सं घ र्ष !
33

जाँघो पर लिखने लगा, विज्ञापन जापान -

जाँघो पर लिखने लगा, विज्ञापन जापान |स्लीब-लेस ड्रेस रोकता, पर यह हिन्दुस्तान |पर यह हिन्दुस्तान, खबर इंदौर बनाए |कन्याएं जापान, हजारों येन कमायें |बिना आर्थिक लाभ, कभी तो सीमा लाँघो |डायरेक्टर ध...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
रविकर
रविकर की कुण्डलियाँ
53

आवडीची तीव्रता

बायको : (लाजत) अहो,मला सांगा ना...मी तुम्हाला मी कीती आवडते?गन्या : खुप खुप आवडतेस ग. . .बायको : पण म्हणजे किती ते सांगा ना.???.........गन्या : म्हणजे इतकी की मला वाटतं,तुझ्या सारख्या आणखी5-6 जणी घरी घेऊन याव्य...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
vaghesh
विनोद नगरी
49

मित्र

पप्या... सकाळ सकाळ छोटा पप्या रडत बसलेला असतो... . तर त्याचे वडील त्याला विचारतात ..." काय रे बाळा काय झालं ?" . पप्या काहीच बोलत नाही...त्याचे वडील परत विचारतात .."अरे मी तुझा मित्र ना..मग का रडत...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
vaghesh
विनोद नगरी
57

shikari devi temple , Himachal ,शिकारी देवी मंदिर , हिमाचल

shikari devi temple , Himachal ,शिकारी देवी मंदिर , हिमाचल shikari devi temple  शिकारी देवी का मंदिर समुद्र तल से ग्यारह हजार फीट की उंचाई पर है । ये शिकारी देवी का मंदिर संभवत अपने आप में अकेला मंदिर है जो इस नाम की देवी है । ...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
Manu
yatra (यात्रा ) मुसाफिर हूं यारो .............
145

खुलती रविकर पोल, पोल चौदह में होना: चर्चा मंच 1318

सकते में सत्ता सकल, हक्के बक्के लोग    बढ़े नित्य आयात ही, घटते शुभ-उद्योग  घटते शुभ उद्योग, रुपैया जिभ्या फिसले करता क्या आयोग, योजना लटके मसले  ढीठ नीति नीतीश, मौत पर बेजा बकते ...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
128

फेकबुक का जाल ..जरा संभाल -लघु कथा

फेकबुक का जाल ..जरा संभाल -लघु कथा ''श्रुति कहाँ जा रही है इतना सज-संवर  कर ? स्नेहा ने उतावली में घर से निकलती अपनी सोलह वर्षीय छोटी बहन को टोका .श्रुति मुंह बनाते हुए बोली -''दीदी ......टोका मत करो !......  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
SHIKHA KAUSHIK
मेरी कहानियां
58

गति के नियम : महर्षि कणाद | Laws of Motion by Maharishi Kanada : 600BC

जी हाँ दोस्तों ,शीर्षक बिलकुल सही है इस संसार को गति के नियम महर्षि कणाद ने दिए है ना की कोई न्यूटन फ्यूटन ने ।वैशेषिक दर्शन (Vaisheshika Sutra) के रचनाकार महर्षि कणाद लगभग २ या ६ ईसा पूर्व प्रभास क्षेत...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
प्राचीन सम्रद्ध भारत
28

कुण्डलिया छंद : अरुण कुमार निगम

निर्मम  दुनियाँ  से  सदा , चाहा  था   वैराग्यपत्थर सहराने लगा ,  हँसकर अपना भाग्यहँस कर  अपना  भाग्य , समुंदर की गहराईनीरव बिल्कुल शांत, अहा कितनी सुखदाईदिन  में  है  आराम   ,...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
43

तीन कविताएँ : तीन रंग

                                                           रोशनी मुरारकाकी क़लम से  अब नहीं रहा वो बचपनपैदा होते ही ...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
Shahroz
Hamzabaan हमज़बान ھمز با ن
49

अब हिंदी डॉक्युमेंट को भी स्कैन कर बदलिए टेक्स्ट फाइल में

भारत सरकार की सूचना प्रौद्योगिकी संस्था Centre for Development of Advanced Computing (C-DAC) ने छापे हुए हिंदी के शब्दों को डिजिटल रूप में बदलने के लिए एक सॉफ्टवेयर बनाया है चित्रांकन (Chitrankan) ये Hindi OCR सॉफ्टवेयर है यानी अब आप किस...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
ललित चाहार
Tech Education HUB
102

महाकवि नाथूराम शंकर शर्मा 'शंकर'पर एक विशेष आलेख - जे0 एस0 चौहान

महाकवि  नाथूराम शंकर शर्मा 'शंकर'(1859-1932)      महाकवि  नाथूराम शंकर शर्मा 'शंकर'उत्तरपश्चिमीप्रांत (अबउत्तर प्रदेश),ब्रिटिशभारत,जिला अलीगढ़,के हरदुआगंजमेंसन् 1859 मेंपैदा हुए थे औरस्था...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
Jais
jaischauhan
28

चोर

एक रात एक घर में चोर घुस आया. खटपट सुनकर मालिक की आंख खुल गई.मालिक – कौन है ?चोर – म्याऊं.मालिक – कौन है ?चोर – म्याऊं.मालिक – कौन है ?चोर – अबे साले बिल्ली हूं बिल्ली....  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
vaghesh
हिंदी ठहाका
81

शिक्षा

जीवन को सफल बनाने के लिए शिक्षा की जरूरत है डिग्री की नहीं । --- प्रेमचंद...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
रौशन जसवाल विक्षिप्‍त
25

चमचमाती दिल्ली का सच

गांवों की लगातार उपेक्षा के कारण रोजगार के जो भी अवसर थे खत्म होते जा रहे हैं। खेती  की लागत लगातार बढ़ती जा रही है। किसानों की जमीन विभिन्न योजनाओं की तहत छीना जा रहा है। शासक वर्गोंद्वारा य...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
loksangharsha
लो क सं घ र्ष !
42

“पड़ गये झूले” (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

गन्दुमी सी पर्त ने ढक ही दिया आकाश नीलादेखकर घनश्याम को होने लगा आकाश पीला छिप गया चन्दा गगन में, हो गया मज़बूर सूरजपर्वतों की गोद में से बह गया कमजोर टीला बाँटती सुख सभी को बरसात की भीनी फु...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
303

"तिज़ारत ही तिज़ारत है" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

जमाना है तिजारत का, तिज़ारत ही तिज़ारत हैतिज़ारत में सियासत है, सियासत में तिज़ारत हैज़माना अब नहीं, ईमानदारी का सचाई काखनक को देखते ही, हो गया ईमान ग़ारत हैहुनर बाज़ार में बिकता, इल्म की बोलि...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
102

देखना मुझे

मौके की तलाश में हूँ , देखना मुझे तुम्हारे ही शहर में हूँ, देखना मुझे /कद -पद के मद में कुछ दीखता नहींश्रेष्ठ तुम सबसे हूँ , देखना मुझे/संकटों में भी और मजबूत बना हूँभ्रम में हो के गिर गया हूँ, देख...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
amitabh shrivastava
अमिताभ
26

प्यारे सपने

आँखो में कुछ सपने ऐसे सजने लगेदिल के तार किसी से जुङने लगेजिंदगी गीत गुनगुनाने लगीदिल से दिल अब मिलने लगेहो गई शुरूआत एक नये रिश्ते कीदिल में खुशियों के फूल अब खिलने लगेहो गई है आदत अब हमें उन...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
ANKUR DWIVEDI
शुरुआत हिंदी लेखन से
143

राजपुरोहित पेज के सभी फोलोवर्स से करबद्ध विनती है

राजपुरोहित पेज के सभी फोलोवर्स से करबद्ध विनती है कि आप जहा रहते हैं, वहां पर स्थित गुरु महाराज के मंदिर की फोटो खीच कर पेज वाल, पेज मेसेज बॉक्स या फिर ई-मेल करे। आपके द्वारा भेजी गई फोटो आपके ना...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
  Sawai Singh Rajpurohit
RAJPUROHIT SAMAJ
46

"मन के प्रतिबिम्ब" और छुट्टियां ...

लन्दन में मौसम की खूबसूरती अपने चरम पर है , स्कूलों की छुट्टियां शुरू हो गई हैं और नया सत्र सितम्बर से आरम्भ होने वाला है. ऐसे में हम जैसे के माता पिता के लिए (जिनके बच्चे स्कूल जाते हैं ) यही सम...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
Shikha varshney
स्पंदन SPANDAN
50

"कुण्डलियाँ-मूछ वन्दना" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

 आभूषण हैं वदन का, रक्खो मूछ सँवार,बिना मूछ के मर्द का, मुखड़ा है बेकार।मुखड़ा है बेकार, शिखण्डी जैसा लगता,मूछों से नर के कानन में पौरुष जगता,कह ‘मंयक’ मूछों वाले ही थे खरदूषण ,स...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
64

मायावी गिनतियाँ : भाग 17

एक मिनट और बीत चुका था और अब ट्राली की स्पीड मात्र साढ़े बारह किलोमीटर प्रति मिनट ही रह गयी थी। उसने सोचा कि ट्राली से कूद जाये और दौड़ना शुरू कर दे। लेकिन उसकी कैलकुलेशन के अनुसार अभी भी 13 किलो...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
Dr. Zeashan Zaidi
Hindi Science Fiction हिंदी साइंस फिक्शन
56

Top 10 Android Apps For Teb Free Download (टैबलेट के लिए फ्री Android के Apps)

Google ने जब से Android को मार्केट में उतारा है, तब से Mobile और कम्‍प्‍यूटर की दुनिया में नई Revolution आ गयी है, साथ ही साथ Android की Approximately20 million से अधिक Apps मार्केट में उपलब्‍ध हैं, लेकिन Problem यह है कि उन में कौन सी Apps सही है और...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
abhimanyu
29

‘‘आदत है हैवानों की’’ (डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री ‘मयंक’)

गलती करना और पछताना, आदत है इन्सानों की।गलती पर गलती करना तो, आदत है हैवानों की।।दर्द पराया अपने दिल में, जिस आदम ने पाला है,उसके जीने का तो बिल्कुल ही अन्दाज़ निराला है,शम्मा पर जल कर मर जाना, च...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
44

सोच की गड़बड़ या फ़क्त बड़बड़!

होर्नका तेवरमिनस्टरका फ़ेवर,ड़ॉवरीका वर,जिंदगीआपकी क्यों दूसरे ड्राईवर 'मर्द'नामहै जात है नर,सत्यानाशदुनिया,जामर!कमउम्र में निकलते बच्चों केपर,जल्दीसीख गये गुटर-गूँकबूतर,हाथमें मोबाईल प...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
Adhurapan
अनकही
73

इनायत

इनायत जब खुदा की हो तो बंजर भी चमन होता खुशियाँ  रहती दामन में और जीवन में अमन होतामर्जी बिन खुदा यारों तो जर्रा भी नहीं हिलता अगर बो रूठ जाए तो मुयस्सर...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
Madan mohan saxena
मदन मोहन सक्सेना की रचनाएँ
64

बिनती

हे रब किसी से छीन कर मुझको ख़ुशी ना दीजिये जो दूसरों को बख्शी को बो जिंदगी ना दीजिये तन दिया है मन दिया है और जीवन दे दिया प्रभु आपको इस तुच्छ का है लाखों लाखों शुक्रिया चाहें दौलत हो ना हो कि...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
Madan mohan saxena
मदन मोहन सक्सेना की रचनाएँ
72

चांद्यात विद्यार्थ्यांचा वर्ग भरतोय पाण्यात

चांद्यात विद्यार्थ्यांचा वर्ग भरतोय पाण्यात नगर । नेवासे तालुक्यातील चांदा येथील जिल्हा परिषद प्राथमिक शाळेची नवीन इमारत वर्षाच्या आतच गळायला लागली आहे. छात्रभारती विद्यार्थी संघटने...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
Kedar bhope
केदार भोपे
75


Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन