अपना ब्लॉग जोड़ें

अपने ब्लॉग को  जोड़ने के लिये नीचे दिए हुए टेक्स्ट बॉक्स में अपने ब्लॉग का पता भरें!
आप नए उपयोगकर्ता हैं?
अब सदस्य बनें
सदस्य बनें
क्या आप नया ब्लॉग बनाना चाहते हैं?
नवीनतम सदस्य

नई हलचल

Share Market से डर खत्म कर देगा ये तरीका

मन में सबसे पहले यही आता है आखिर ये शेयर मार्केट है क्या और इसमें हम कैसे एक अच्छे इन्वेस्टर बन सकते है और कैसे अच्छी कमाई कर सकते है |  अगर आपके दिमाग में भी कुछ इसी तरह के प्रश्न है जिनके उत्तर...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
बेरोजगार  लेखक
बेरोजगार लेखक
5

Iise में शुरू हुई अंतरजनराज्यीय क्रिकेट प्रतियोगिता

लखनऊ के कल्याणपुर स्थित इंटरनेशनल इस्टीट्यूट फॉर स्पेशल एजुकेशन में डाक्टर गिरीश बिहारी मेमोरियल तीन दिवसीय़ अंतरराज्यीय क्रिकेट प्रतियोगिता का आगाज़ हुआ.... जिसमें लखनऊ सहित आसपास के जनपद ...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
Shahid Mansoori
E & E News
1

थारी बेटी फालतू दिक्खै

छेड़खानी महिलाओं विशेषकर स्कूल-कॉलेज जाने वाली छात्राओं के साथ प्रतिदिन होने वाला अपराध है जिससे परेशानी महसूस करते करते भी पहले छात्राओं द्वारा स्वयं और बाद में अपने परिजनों को बताने पर उन...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
SHALINI KAUSHIK
! कौशल !
6

ट्रिपल तलाक से समान नागरिक संहिता तक !

सुप्रीम कोर्ट का एक फैसला और फिर सरकार ने बदल दी पूरी तस्वीर। मोदी कैबिनेट में ट्रिपल तलाक  मामले साभार: PIBको रोकने के लिए सहमति दे दी गई है। एक बिल की ड्राफ्टिंग हो चुकी है। कैबिनेट से पास होन...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
सुनील सिंह
पहचान पत्र
5

कथाओं में कथा रामकथा ( 2 ) - विमर्श

             जेहन में यह सवाल आना स्वाभाविक ही है कि आखिर रामकथा में ऐसा क्या है जो इतनी लोकप्रिय हुई। आमतौर पर देखने में यही आता है कि साधारण घटनाएं लोगों का ध्यान आकृष्ट नहीं कर पाती। ल...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
bhavna pathak
bhonpooo.blogspot.com
5

जिस इंसान को मोबाइल की लत है, मस्त जोक्स

मोबाइल ख़राब हो जाये और सही करने सर्विस सेंटर में दिया हो हर उस इंसान के लिए जिसे मोबाइल की लत है उसके साथ क्या होता है देखिये -अगर मोबाइल ख़राब हो जाये और सही करने सर्विस सेंटर में दिया हो तो मो...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
shweta
offbeat news
4

लव कपल्स घूमने जाएँ तो इन पोज में फोटो जरूर क्लिक करें

विंटर वकेशंस आने वाली हैं, ऐसे में बहुत से लोग बाहर घूमने जाने का प्लान बना रहे होंगे। क्योंकि छुट्टियों को धूम धाम से मनाने का इस से अच्छा तरीका कोई और हो नहीं सकता। क्योंकि बाहर जाकर फॅमिली क...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
shweta
offbeat news
4

हथेली पर इस रेखा को देखकर जानिए कि जीवन में कितना सुख है और कितना दुःख

दोस्तों, सुख और दुःख जीवन के दो अभिन्न अंग हैं जो हर व्यक्ति के जीवन में आते जाते रहते हैं। कुछ भाग्यशाली लोग ऐसे भी होते हैं जिनके जीवन में सुख अधिक होता है और दुःख कम। आप भी अपनी हथेली देखकर जा...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
shweta
offbeat news
3

दैवीय शक्तियों का आभास करा सकती है ये विलक्षण रेखा, करोड़ों में किसी एक की हथेली पर होती है

अगर आप अपनी हथेली को गौर से देखें तो आप को सैकड़ों छोटी बड़ी रेखाएं दिखाई देंगी। हाथों की कई रेखाएं हमारे कर्म के मुताबिक लगातार बदलती रहती है। वहीं कुछ रेखाएं ऐसी भी होती हैं जिन्हें बदला नही...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
shweta
offbeat news
2

2. सही या गलत -निर्णय आपका

पैसे का बहाव बरकरार रखने या पैसे का रिसाव रोकने के लिए सवालों का सामना कीजियेसबसे अच्छे दोस्त वो सवाल होते है जो आपको मुश्किलों में डालते हैक्याक्योंकबकैसेकहाँ……. ?…….?सवाल जो भी हो उत्तरों...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
Kirti
अमीर बने
2

''अविराम लेखनी''

''अविराम लेखनी'' लिखता जा रे !तूँ है लेखक रिकार्ड तोड़ रचनाओं की गलत वही है तूँ जो सही है घोंट गला !आलोचनाओं की पुष्प प्रदत्त कर दे रे ! उनको दिन में जो कई बार लिखें लात मार दे ! कसकर उ...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
DHRUV SINGH
"एकलव्य"
3

काव्य पाठ २८ जनवरी

सोते सोते भी सतत्, रहो हिलाते पैर।दफना देंगे अन्यथा, क्या अपने क्या गैर।।दौड़ लगाती जिन्दगी, सचमुच तू बेजोड़ यद्यपि मंजिल मौत है, फिर भी करती होड़                                   ...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
रविकर
रविकर की कुण्डलियाँ
0

दुनियां तू सजाने को चली आ...

सब तोड़ के तिलिस्म ज़माने के चली आ,वादे किए जो हमने  निभाने को चली आ...अब आ भी जा सूनी है ज़िन्दगी तेरे बग़ैर,बेशक मुझे तू  छोड़ के जाने को चली आ...सांसें  हुई  बोझिल  ये  धड़कने  गवाह हैं,रूठे हु...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
रवीन्द्र पाण्डेय
कुछ ऐसा भी... Kuchh Aisa Bhi...
2

लल्ली लगा ली आलता लावा उछाली चल पड़ी

अलमारियों में पुस्तकें सलवार कुरते छोड़ के।गुड़िया खिलौने छोड़ के, रोये चुनरियाओढ़ के।रो के कहारों से कहे रोके रहो डोली यहाँ।माता पिता भाई बहन को छोड़कर जाये कहाँ।लख अश्रुपूरित नैन से बारातियों...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
रविकर
"कुछ कहना है"
0

इज़हार-ए-मोहब्बत

#corner-to-corner { height:100%; border:5px SOLID slateblue ; padding:30px; background: cyan ; इज़हार-ए-मोहब्बतमुझे क्या लेना-देना है, किसी से,मुझे जीना-मरना, तेरे ही दम से,तुम मेरी जान हो, मेरा ईमाँ हो,   सच कहता हूँ मैं, तुम को ये कसम से। शुक्...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
राकेश श्रीवास्तव
1

दोहे "रखो रेडियो पास में" (राधा तिवारी)

भूल गया है रेडियो, अब तो सारा देश।टीवी पर ही देखते, दुनिया के सन्देश।।लाये फिर से रेडियो, मेरे भाई साब।मिलता हमको है नहीं, इसका कोई जवाब।।सुनने में अच्छे लगें, भूले बिसरे गीत।युववाणी के साथ है...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
राधे गोपाल
राधे का संसार
5

गीत "कैसे नियमित यजन करूँ मैं" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक)

सब कुछ वही पुराना सा है!कैसे नूतन सृजन करूँ मैं?कभी चाँदनी-कभी अँधेरा,लगा रहे सब अपना फेरा,जग झंझावातों का डेरा,असुरों ने मन्दिर को घेरा,देवालय में भीतर जाकर,कैसे अपना भजन करूँ मैं?कैसे नूतन सृ...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
5
4

882...कृपया एक बार सोचिएगा अवश्य।

मैं सोच-सोचकर परेशान हूँ आखिर उन ३-४-५ साल की मासूम बच्चियों ने कैसे भड़काऊ वस्त्र पहने होगें, जो अमानवीय कृत्य का शिकार हो गयीं।  कैसी अदाएँ दिखायी होंगी जो किसी को वासानात्मक रुप से उकस...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
Yashoda Agrawal
पाँच लिंकों का आनन्द
0

दो पल की जिंदगी......अवधेश प्रसाद

दो पल की जिंदगीमुझे कोई उधार दे दे पतझड़ सी जिंदगी मेथोडी बहार दे दे।आने को कोई कह दे बेचैन-सी मै हो लूं वो आए या न आएपर इंतजार दे दे ।जीने पर चाहूं मरनामरने पर चाहूं जीनाइस बेकरार दिल कोको...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
Yashoda Agrawal
मेरी धरोहर
0

और बचा लो इज़्ज़त - बेटी तो फालतू है ना

     छेड़खानी महिलाओं विशेषकर स्कूल-कॉलेज जाने वाली छात्राओं के साथ प्रतिदिन होने वाला अपराध है जिससे परेशानी महसूस करते करते भी पहले छात्राओं द्वारा स्वयं और बाद में अपने परिजनों को बता...  और पढ़ें
3 दिन पूर्व
SHIKHA KAUSHIK
भारतीय नारी
5

और बचा लो इज़्ज़त -बेटी तो फालतू है ना

     छेड़खानी महिलाओं विशेषकर स्कूल-कॉलेज जाने वाली छात्राओं के साथ प्रतिदिन होने वाला अपराध है जिससे परेशानी महसूस करते करते भी पहले छात्राओं द्वारा स्वयं और बाद में अपने परिजनों को बता...  और पढ़ें
3 दिन पूर्व
SHALINI KAUSHIK
कानूनी ज्ञान
3

> > बिभा........................  >मैथिली शायरी काव्य कोश :  रहें ना रहें हम, महका करेंगेबन के कली, बन के सबा, बाग़े वफ़ा में ...मौसम कोई हो इस चमन मेंरंग बनके रहेंगे इन फ़िज़ा मेंचाहत की खुशबू, यूँ ही ज़ुल्फ़ोंसे उड़...  और पढ़ें
3 दिन पूर्व
सचिन कुमार मैथिल
Kavita Gajal Shayari 'मैथिलि कविता'गजल सचिन मैथिल हमर नाम यौ !
2

स्तुति और आराधना

   जर्मनी के विरुद्ध 2014 के फुटबॉल विश्वकप में, घाना के अस्मोह ज्ञान ने जब गोल किया तो उन्होंने अपनी टीम के सदस्यों के साथ मिलकर सामूहिक नृत्य किया। कुछ ही मिनिटों के बद जब जर्मनी के मीरोस्ला...  और पढ़ें
3 दिन पूर्व
Roz Ki Roti
रोज़ की रोटी - Daily Bread
4

हम, महका करेंगे .. सचिन कुमार मैथिल

 >मैथिली शायरी काव्य कोश :                      रहें ना रहें हम, महका करेंगेबन के कली, बन के सबा, बाग़े वफ़ा में ...मौसम कोई हो इस चमन मेंरंग बनके रहेंगे इन फ़िज़ा मेंचाहत की खु...  और पढ़ें
3 दिन पूर्व
सचिन कुमार मैथिल
Kavita Gajal Shayari 'मैथिलि कविता'गजल सचिन मैथिल हमर नाम यौ !
1

सारा सब कुछ अभी ही लिख देगा क्या माना लिख भी लेगा तो आगे फिर लिखने के लिये कुछ भी नहीं बचेगा क्या ?

रहने भी दे हमेशा खुद से ही बहस मत कर लिया कर कुछ औरों का लिखना भी कभी तो देख भी लिया कर अपना अपना भी लिख रहे हैं लिखने वाले  तू भी कभी कुछ अपना ही लिख लिया कर इधर उधर देखना थोड़ी देर के लिये ही सही क...  और पढ़ें
3 दिन पूर्व
डा0 सुशील कुमार जोशी
उल्लूक टाईम्स
0

1. सही या गलत -निर्णय आपका !

कहते है पैसा चलायमान होता है .सवाल ये है कि ये आपके पास चलकर आ रहा है या आपके पास से चलकर जा रहा है.चुनौती ये है कि अगर चलकर आ रहा है तो इस आवक को बरक़रार कैसे रखा जाये और अगर आपके पास से चलकर जा ...  और पढ़ें
3 दिन पूर्व
Kirti
अमीर बने
1

निष्पक्षता का दावा करने वाले पत्तलकार छद्म सेकुलरिज्म और मुस्लिम तुष्टिकरण की लाइलाज बीमारियों से ग्रसित हैं

हरेश कुमार                              अंधविरोधियों से कोई उम्मीद नहीं, निष्पक्षता का दावा करने वाले ऐसे पत्तलकार छद्म सेकुलरिज्म और मुस्लिम तुष्टिकऱण की लाइलाज बीमारियों से ...  और पढ़ें
3 दिन पूर्व
Haresh
Information2media
3

kumar

3 दिन पूर्व
kumar
0

kumar

3 दिन पूर्व
kumar
0


Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन