इत्तिफ़ाक़ की पोस्ट्स

फेसबुक पर रहने के फायदे-नुकसान

फेसबुक पर रहने के अपने फायदे-नुकसान हैं। पर, फेसबुक पर न रहने के भी अपने फायदे-नुकसान हैं। तकरीबन दो साल फेसबुक से दूरी बनाकर यह मैंने करीब से महसूस किया है। बताता हूं...।दो साल में मैंने फेसबुक ...  और पढ़ें
6 माह पूर्व
इत्तिफ़ाक़
0

नानी का घर

गर्मियों की छुट्टियों में नानी के घर जाने का मौका सालभर इंतजार के बाद आता था। स्कूल बंद होते ही मम्मी-पापा से नानी के घर जाने की जिद सबसे खास फरमाइश रहती थी। फिर, महीना भर नानी के घर ही कटता। जबक...  और पढ़ें
6 माह पूर्व
इत्तिफ़ाक़
0

असंवेदनशील होते समाज में महिलाएं और बच्चियां

देखा जाए तो, निर्भया कांड के बाद, न देश न समाज में कुछ भी नहीं बदला। महिलाओं और मासूम बच्चियों के साथ छेड़छाड़ और बलात्कार की घटनाएं बदस्तूर जारी हैं। शायद ही ऐसा कोई दिन खाली गुजरता हो जब हमें दे...  और पढ़ें
6 माह पूर्व
इत्तिफ़ाक़
0

क्या लौटेंगे ब्लॉगिंग की तरफ

यहतो खैर नहीं कहूंगा कि ब्लॉग और ब्लॉगिंग अब इतिहास बन चुके हैं मगर हां इतिहास की चौखट पर दस्तक अवश्य दे दी है। ब्लॉग अब उस तादाद में नहीं लिखे जा रहे, जैसे करीब 10-12 साल पहले तक लिखे जाते थे। तब बह...  और पढ़ें
7 माह पूर्व
इत्तिफ़ाक़
0
 
Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन  
हो सकता है इनको आप जानते हो!