साहित्य स्क्रीन की पोस्ट्स

गज़ल/रेक्टर कथूरिया

न तू जाना न अन्जाना लगता है!अपना है तो क्यूँ बेगाना लगता है!लगता है फिर दिल की शामत आई है;इसको उसका साथ सुहाना लगता है!उसका न कोई दोस्त, न कोई दुश्मन है;उसका तो हर एक दीवाना लगता है!वक्त की मरहम स...  और पढ़ें
1 माह पूर्व
साहित्य स्क्रीन
0

हरकीरत कौर चाहल का नावल "थोहरां दे फुल"का विमोचन

यह नावल पंजाब में महिला की दुखद स्थिति का दस्तावेज़लुधियाना: 18 मई 2018: (साहित्य स्क्रीन टीम):: पीएयू के स्टूडेंटस होम में आज साहित्यिक माहौल बना रहा। पंजाबी साहित्यकारा हरकीरत कौर चाहल की पुस...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
साहित्य स्क्रीन
0

दिल को छूने वाली सादगी भरी शायरी करते हैं रौनक साहिब

प्रगतिशील विचारधारा से गहरा और भावुक सम्बन्धसैकड़ों पुल बने फ़ासले भी मिटे, आदमी आदमी से जुदा ही रहा। यह किसका शेयर है--मुझे नहीं मालूम था।मुझे लगा मनोज जी ने रचा है।  लेकिन यह एक गलतफ़हमी...  और पढ़ें
4 माह पूर्व
साहित्य स्क्रीन
0

🌅 सुबह-सवेरे 🌅 अगर तुम युवा हो//शशिप्रकाश

तुम हो वीर शहीदों के जीवन के वे दिन//जिन्हें वे जी न सकेजब तुम्हें होना हैहमारे इस ऊर्जस्वी, सम्भावनासम्पन्न,लेकिन अँधेरे, अभागे देश मेंएक योद्धा शिल्पी की तरहऔर रोशनी की एक चटाई बुननी हैऔर आग...  और पढ़ें
6 माह पूर्व
साहित्य स्क्रीन
0
 
Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन  
हो सकता है इनको आप जानते हो!  
hindikunj
hindikunj
kolkata,India
Sarfraj Alam
Sarfraj Alam
Sitapur (UP),India
rampraveshray
rampraveshray
patna,India
Pankaj Tyagi
Pankaj Tyagi
modinager,India
vikas
vikas
delhi,India